जलाई गई महिला के घर में रहते थे AAP विधायक सुरेंदर

  • जलाई गई महिला के घर में रहते थे AAP विधायक सुरेंदर
You Are HereNational
Wednesday, January 22, 2014-11:14 AM

नर्इ दिल्ली: दिल्ली की महिला एवं बाल कल्याण मंत्री राखी बिडलान जब ससुराल द्वारा किसी महिला को जला दिए जाने के मामले में पुलिस को घर के दरवाजे को तोड़ने के लिए दबाव बना रही थीं, वे कोर्इ आम मामला नहीं था। जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि 'आप' पार्टी के विधायक सुरेंदर सिंह इलेक्शन से पहले 6 महीने तक पीड़ित महिला के घर बतौर किराएदार रहे थे।

अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के अनुसार बताया जा रहा है कि सुरेंदर सिंह ने पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए राखी बिड़लान को सागरपुर बुलाया था। सुरेंदर सिंह के कैंपेन मैनेजर रहे गौरव तिवारी ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि 'हम मकान की तलाश कर रहे थे, तभी इस महिला के घर के बारे में पता चला और हमने दोनों फ्लोर 15 हजार रुपये प्रति माह महिला के घर रहे थे।

पीड़ित ने बताया कि उसके ससुराल वाले उसे जान से मार देने की धमकिया देते थे। पीड़ित को लगता था कि अगर वह किराएदारों के बीच रहेंगी तो वह उनकी मौजूदगी में वह सेफ रहेगी।' बताया जा रहा है कि जैसे ही  सुरेंदर ने यह मकान छोड़ा, पीड़िता को जान से मारने की धमकियां मिलने लगीं। आखिरकार पीड़िता के ससुराल वालों ने उसे जला दिया।

जब सुरेंदर सिंह को इस मामले की जानकारी मिली तो वह सबसे पहले वहां पहुंचे और सागरपुर SHO के पास गए, लेकिन कोई ऐक्शन नहीं लिया गया।  पुलिस ने इस मामले में 5 आरोपियों को अपने साथ ले गई, लेकिन एक को ही गिरफ्तार किया। इसके बाद सुरेंद्र ने मुख्यमंत्री अरविन्द  केजरीवाल और राखी बिड़ला से इस मुद्दे की जानकारी दी। इसके बाद आप विधायकों की पुलिस से नोंक-झोंक शुरू हुर्इ।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के धरने मे महिला के ससुरवालों को गिरफ्तार न करने वाले पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने की मांग भी शामिल थी। दिल्ली कैंट विधानसभा सीट से 'आप' पार्टी के प्रत्याशी सुरेंद्र सिंह अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी बीजेपी प्रत्याशी करन सिंह तंवर से 355 मतों के अंतर से जीत थे।
 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You