नेताजी की जयंती पर आयोजित समारोह में रंग में भंग

  • नेताजी की जयंती पर आयोजित समारोह में रंग में भंग
You Are HereNational
Friday, January 24, 2014-9:10 AM

कोलकाता: नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 117वीं जयंती पर आज उस समय खटास पैदा हो गई जब नेताजी रिसर्च ब्यूरो को दो सदस्यों द्वारा चलाए जाने का विरोध कर रहे 30 पारिवारिक सदस्यों को नेताजी भवन से पुलिस ने निकाल दिया। नेताजी के प्रपौत्र चंद्र बोस और परिवार के 30 से 35 सदस्य एवं युवाओं का एक समूह ‘ओपेन प्लेटफॉर्म फॉर नेताजी’ के बैनर तले प्रोफेसर सुगातो बोस के खिलाफ विरोध कर रहा था एवं नारे लगा रहा था तभी पुलिस ने उन्हें वहां से भगा दिया। सुगातो बोस रिसर्च संस्था को चला रहे हैं। प्रदर्शनकारियों ने रेड रोड से एल्गिन रोड स्थित नेताजी भवन तक करीब छह किलोमीटर मार्च किया।

 

परिवार का यह पैतृक घर है जिसमें एक संग्रहालय है और राष्ट्रवादी नेता की जिंदगी पर आधारित शोध केंद्र भी है। सुगातो और उनकी मां कृष्णा बोस ब्यूरो चलाती हैं। चंद्रो ने कहा, ‘‘उन्होंने (सुगातो) हमसे कहा है कि 1945 में नेताजी के रहस्यमयी परिस्थितियों में लापता होने से संबंधित फाइल को सार्वजनिक करना कोई मुद्दा नहीं है जबकि पीएमओ ने स्वीकार किया है गुप्त फाइल उनके पास है।

 

इस मुद्दे पर हम उनसे सार्वजनिक बयान की मांग को लेकर शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे तभी पुलिस ने हमें बलपूर्वक वहां से निकाल दिया।’’ नेताजी के परिवार के कुछ सदस्यों ने कहा, ‘‘उन्होंने नेताजी भवन को व्यावसायिक प्रतिष्ठान एवं राजनीतिक फोरम बना दिया है। इसलिए हम मांग करते हैं कि उन्हें निकाल बाहर किया जाना चाहिए।’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You