Subscribe Now!

तिवारी ने सर्वेक्षण के नतीजों को खारिज किया, कांग्रेस के सत्ता में लौटने की उम्मीद

  • तिवारी ने सर्वेक्षण के नतीजों को खारिज किया, कांग्रेस के सत्ता में लौटने की उम्मीद
You Are HereNational
Friday, January 24, 2014-5:37 PM

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी ने लोकसभा चुनाव के लिए हाल ही में सामने आये चुनाव पूर्व सर्वेक्षण में भाजपा को अधिक मजबूत दिखाये जाने वाले नतीजों को खारिज करते हुए कहा कि जो प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार देते हैं वे विपक्ष में बैठते हैं। तिवारी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘सभी सर्वेक्षणों और विश्लेषणों को धता बताते हुए 2014 के लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद आप देखेंगे कि भगवान की दया और जनता के समर्थन से देश को प्रधानमंत्री देने वाली पार्टी फिर से सत्ता में आएगी और जिन्होंने प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार दिये हैं वे अपनी मूल जगह, विपक्ष में ही रहेंगे।’’

केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री ने कहा कि कुछ लोगों की कांगे्रस को नकारने की आदत रही है। तिवारी ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में प्रधानमंत्री पद के भाजपा के दावेदार नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि गुजरात में उनकी सरकार ने केवल कुछ पूंजीपतियों के लिए काम किया है। उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप गुजरात मॉडल में प्रशासन का विश्लेषण करें तो पांच करोड़ गुजराती पिछड़े रह गये जबकि 5 से 6 पूंजीवादियों ने प्रगति की है। अगर वहां किसान प्रदर्शन कर रहे हैं तो सही कर रहे हैं।’’ 

मंत्री ने कहा कि अगर फासीवादी ताकतें मजबूत होती हैं तो मीडिया की आजादी को नुकसान होगा। उन्होंने कहा कि संप्रग की विचारधारा ‘हम’ के तौर पर सोचने की है जबकि विपक्षियों की सोच ‘मैं’ में बात करने की है। चुनाव पूर्व सर्वेक्षण पर प्रतिबंध लगाने के सवाल पर तिवारी ने कहा कि संप्रग सरकार पाबंदी लगाने में भरोसा नहीं करती। उत्तर प्रदेश में दो समाचार चैनलों को ब्लॉक किये जाने की खबरों के संदर्भ में मंत्री ने कहा कि यह घटना संप्रग और अन्य दलों के बीच अंतर दिखाती है।

 
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You