गणतंत्र दिवस पर मणिपुर में चार बम विस्फोट

  • गणतंत्र दिवस पर मणिपुर में चार बम विस्फोट
You Are HereNational
Sunday, January 26, 2014-7:29 PM

नई दिल्ली: देशभर में आज राष्ट्रीय ध्वज फहराने और रंगारंग परेडों के साथ गणतंत्र दिवस मनाया गया लेकिन इस मौके पर मणिपुर में संदिग्ध उग्रवादियों ने चार शक्तिशाली बम विस्फोट किए। हालांकि इंफाल शहर और इसके आस पास हुए बम विस्फोटों में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। मणिपुर के छह प्रमुख उग्रवादी संगठनों ने गणतंत्र दिवस समारोह के बहिष्कार का आह्वान किया था।

दो बम विस्फोट उपायुक्त कार्यालय के नजदीक राजधानी परिसर के कांगला में सुबह करीब आठ बजकर 25 मिनट पर हुआ। दो अन्य विस्फोट पूर्वाह्न करीब 11 बजे शहर के बाहरी इलाकों चिंगमीरोंग और चिंगामाखा में हुए। जम्मू कश्मीर के राज्यपाल एनएन वोहरा ने जम्मू के मौलाना आजाद स्टेडियम में ध्वजारोहण समारोह में कहा कि राज्य में शांति बहाल होने तक सुरक्षाबलों को पैनी नजर रखते हुए अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए।

राज्य में संघर्षविराम उल्लंघनों और घुसपैठ की बढ़ती घटनाओं पर चिंता जताते हुए राज्यपाल ने पाकिस्तान से सीमा पर शांति कायम रखने का भी अनुरोध किया। राज्यपाल ने राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद परेड की सलामी ली जिसमें सेना, अद्र्धसैनिक बलों, पुलिस और स्कूली बच्चों ने भाग लिया। इस बीच, पाकिस्तानी सैनिकों ने कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर संघर्षविराम का उल्लंघन करते हुए बगैर उकसावे के करीब तीन घंटे तक गोलीबारी की।

19 वीं इंफे्रट्री डिवीजन के जनरल आफिसर कमांडिंग मेजर जनरल अनिल चौहान ने श्रीनगर में संवाददाताओं को बताया ‘‘आज सुबह सवा छह बजे अंधेरे में पाकिस्तानी सीमा की ओर से बगैर उकसावे के गोलीबारी की गई। उन्होंने भारतीय सीमा की ओर कामन चौकी (उरी सेक्टर में) पर छोटे हथियारों और आरपीजी से गोलियां चलाईं।’’ पिछले माह भारत और पाकिस्तान के डीजीएमओ स्तर की बातचीत के बाद संघर्षविराम के उल्लंघन की यह पहली घटना है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You