Subscribe Now!

हादसों के मुहाने पर बैठी पुरानी दिल्ली

  • हादसों के मुहाने पर बैठी पुरानी दिल्ली
You Are HereNational
Tuesday, January 28, 2014-12:01 AM

नई दिल्ली : दिल्ली-6 (पुरानी दिल्ली) जिसके बारे में कहा जता है कि यह छह बार बसी और छह बार उजड़ी। अब प्रशासन की घोर लापरवाही की भेंट चढ़ी हुई है। यहां की खस्ताहाल सैकड़ों इमारतें हादसों को निमंत्रण दे रही हैं। 

इस बारे में हाजी अब्दुल रउफ का कहना है बिल्डर माफियाओं ने पुलिस व एमसीडी से सांठ-गांठ कर पुरानी इमारतों पर नया निर्माण करा दिया है। पिछले साल चांदनी महल इलाके में एक पुरानी इमारत इसी कारण गिरी थी। उन्होंने बताया कि पुरानी दिल्ली के जामा मस्जिद इलाके, मटिया महल, हवेली आजम खां, सुईं वालान, चुड़ी वालान, तिराहा बेरम खां, रफात गंज, चितली कवर, चांदनी महल, बल्ली मारान में सैंकड़ो ऐसे मकान हैं जो 50 और 100 साल से भी अधिक पुराने हैं। जिनकी हालत बेहद खस्ता हो चुकी है।

स्थानीय निवासी अमीरुद्दनी का कहना है कि यहां पुलिस और निगम सिर्फ बिल्डर लोगों के साथ है। पुरानी इमारतों के लिए कोई पॉलिसी नहीं होने के चलते आम आदमी पुराने मकान की मरमत तक नहीं करापाते। जबकि निगम के अधिकारियों ने ही क्षेत्र में अपने दलाल छोड़ रखे हैं, जो बिल्डरों के लिए अवैध निर्माण के लिए हर मंजिल के रेट तय करते हैं। अब चाहें आप पुरानी इमारत पर इमारत खड़ी कराएं या फिर अवैध रूप से पूरी इमारत बना दें।

दमकल अधिकारी राजेंद्र अटवाल का कहना है कि पुरानी दिल्ली की इमारतें बेहदपुरानी हैं। उस वक्त मकान बिना किसी प्लान और नक्से के तैयार किए गए थे। समय के साथ अब वह काफी जर्जर हो चुके हैं। जर्जर मकन और तंग गलियों को देखते हुए ही पुरानी दिल्ली के आस-पास चार दमकल केंद्रों को बनाया गया है।

पुरानी दिल्ली मटिया महल से विधायक मो. शुऐब इकबाल ने बताया कि पुरानी दिल्ली तो बहुत ही पुरानी है। सरकार व प्रशासन की लापरवाही और पुरानी इमातों के लिए कोई पॉलिसी न होने के चलते बरसों पुरानी इमारतें खस्ताहाल होती जा रही हैं। यहां इमारत गिरने के बावजूद सरकार और प्रशासन हाथ पर हाथ धरे बैठा है।

हाल ही में हुए बड़े हादसे:

9 अक्टूबर 2103:  बाड़ा हिन्दूराव में 150 साल पुरानी इमात ढह गई। जिसमें दो लोग की मौत हो गई।

27 सितंबर 2013:  चांदनी महल इलाके में एक पुरानी इमारत ढह गई। हादसे में 7 लोगों की मौत हो गई, जबकि 25 से अधिक लोग घायल हो गए।

20 मई 2013:      सदरबाजार में चार मंजिला पुरानी इमारत गिरी

 
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You