20 साल बाद घोड़े बग्गी से आई राष्ट्रपति की सवारी

  • 20 साल बाद घोड़े बग्गी से आई राष्ट्रपति की सवारी
You Are HereNational
Wednesday, January 29, 2014-6:00 PM

नई दिल्ली: बीस साल बाद पहली बार राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने 16 वीं सदी से चली आ रही एक परंपरा को पुनजीर्वित करते हुए आज गणतंत्र दिवस की समापन परेड ‘बीटिंग रिट्रीट’ के लिए घोड़े बग्गी पर सवार होकर राजपथ पर सैन्य बलों की टुकडियों को गाजे बाजे के साथ बैरकों में वापस भेजा।

यह वही बग्गी है जिसे कभी भारतीय सेना ने तकदीर का सिक्का उछालकर विभाजन के समय जीता था। यह बग्गी अविभाजित भारत में गवर्नर जनरल्स बाडीगार्ड की संपत्ति थी और बंटवारे के समय भारत और पाकिस्तान में से कोई भी इस पर जब अपना दावा छोडऩे को तैयार नहीं हुआ तो बाडीगाड्र्स के पहले कमांडेंट उनके मुस्लिम डिप्टी ने सिक्का उछाला जिसमें भारत ने इस बग्गी को जीत लिया।

किस्मत के जोर पर भारत के राष्ट्रपति प्रेसिडेंशियल बाडीगार्ड का हिस्सा बनी उसी बग्गी ने आज पूरी शान के साथ विजय चौक की राह पकड़ी। करीब दो दशक पहले तक देश के राष्ट्रपति को राजपथ पर लाने के लिए बग्गी का इस्तेमाल किया जाता था लेकिन सुरक्षा कारणों से यह परंपरा रोक दी गई थी और स्वर्णाक्षरों वाली अशोक की लाट वाली नंबर प्लेट से सुसज्जित आलीशान श्याम रंग की लिमूजिन में राष्ट्रपति की सवारी निकलने लगी थी।

करीब सवा तीन सौ एकड़ में फैली राष्ट्रपति भवन की जायदाद में इस बग्गी के घोड़़ेों के लिए एक अस्तबल भी हुआ करता था जिसके स्थान पर वहां राष्ट्रपति भवन का इतिहास समेटते हुए संग्रहालय बनाने की तैयारी चल रही थी। बग्गी पर बैठकर देश के राष्ट्रपति अपने इस विशाल जायदाद के भ्रमण पर निकला करते थे।

मुखर्जी ने इस परंपरा को भी जीवित किया और बग्गी से राष्ट्रपति भवन में भ्रमण आरंभ किया। इस बार गणतंत्र की समापन परेड में उन्होंने बग्गी में बैठकर विजय चौक आने का निर्णय लिया था लेकिन सुरक्षा कारणों से कल तक अंतिम रूप नहीं दिया जा सका था।

बीटिंग रिट्रीट की परंपरा कभी 16 वीं सदी के इंग्लैंड में हुआ करती थी जब फौज को सूर्यास्त के समय बैरकों में पूरे उत्सव के साथ भेजा जाता था। उसी परंपरा को भारत ने अपने गणतंत्र दिवस के लिए राजपथ पर आने वाली फौजों को वापस भेजने के लिए बीटिंग और रिट्रीट समारोह में शामिल कर लिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You