यूपी: मोदी की रैली में सिर्फ 3 जनपदों से 1500 वाहन

  • यूपी: मोदी की रैली में सिर्फ 3 जनपदों से 1500 वाहन
You Are HereNational
Sunday, February 02, 2014-10:50 AM

मुजफ्फरनगर: हाईवे और यहां की लिंक रोड़ से होकर नरेंद्र मोदी की रैली के लिए अतिरिक्त 1500 वाहन गुजरेंगे। रविवार को वाहनों की यह संख्या सिर्फ 3 जनपदों में मुजफ्फरनगर, शामली और सहारनपुर से मेरठ पहुंचेगी। इनकी रवानगी से ज्यादा वापसी की फिकर है। वापसी में दिन छिप चुका होगा। इसके बाद इतनी भारी संख्या में वाहनों के काफिलों में भीड़ को संभालना किसी चुनौति से कम नहीं होगा। रैली में भीड़ पहुंचाने के लिए यू.पी से ही नहीं ब्लकि अगल बगल के राज्यों में हरियाणा, उत्तराखंड से भी बसों का खास इंतजाम किया गया है। प्रत्येक विधानसभा वार मोटर साईकिल रैलियों से जनसंपर्क करके लोगों में रैली के प्रति जागरूकता पैदा की गई है। हर गांव से एक बस ले जाने का लक्ष्य बीजेपी कार्यकर्ताओं को सौंपा गया है।

मेरठ की सीमा से लगे थाना क्षेत्र खतौली, रतनपुरी, बुढ़ाना से काफी लोग ट्रैक्टर ट्राली से भर कर पहुंचेंगे। हल्के वाहनों में चौ पहिया गाड़ी के अलावा दो पहिया वाहनों से भी आवागमन रहेगा। मुजफ्फरनगर दंगों से उपजी सांप्रदायिकता की आग रैली में जोशीली नारेबाजी से फिर सुलग सकती है। इससे निपटने को मिश्रित आबादी वाले गांवों पर विशेष चौकसी बरतने की आवश्यकता है। इन थाना क्षेत्रों में फुगाना, भौराकला, शाहपुर, बुढ़ाना, तितावी, नगर कोतवाली, नई मंडी, खतौली, मंसूरपुर तथा रतनपुरी एक तरह से अतिसंवेदनशील घोषित किए जा चुके है।  इससे पहले नंगला मंदौड की हुई पंचायत में पुरबालियान और बसी शाहपुर मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों से सांप्रदायिकता फैली थीं। रैली से वापसी की भीड़ शामली जाने के लिए वहलना चौक से तितावी और बघरा होकर जाएगी जो कि अति संवेदनशील है।

वहलना चौक खास है, यहां से सहारनपुर वाया देवबंद वाला ट्रैफिक रामपुर तिराहा होकर हाईवे पर पहुंचेगा। पीनना, रामपुर तिराहा, खतौली, जानसठ, मीरापुर में सतर्कता की बरतनी होगी। आतंकियों के निशाने पर नरेन्द्र मोदी है। इससे पहले भी उनकी रैली को लश्करे-तयैबा और मुजाहीदिन जैसे आतंकी संगठन अपने निशाने पर ले चुके है। इसलिए रैली से गुजरने वाले सभी थाना और पुलिस चौकियों पर एंटीराईट गन, टीयर गैस तथा वीडियों ग्राफी को सुरक्षा की दृष्टि से ड्यूटी में शामिल करना बेहतर रहेगा। किसी भी छोटी मोटी घटना या अफवाह को लेकर कंट्रोलरूम को चौकन्ना रहना होगा। सड़क दुर्घटनाओं की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता, इसलिए खास चौकसी चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You