The Last Lions को मिला सीएमएस वातावरण वाइल्डलाइफ फिल्म अवॉर्ड

  • The Last Lions को मिला सीएमएस वातावरण वाइल्डलाइफ फिल्म अवॉर्ड
You Are HereNational
Monday, February 03, 2014-4:14 PM

नर्इ दिल्ली: सातवें सीएमएस वातावरण अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण और वन्यजीवन फिल्म समारोह में ‘चार-द नो मैन्स आइलैंड’ और ‘द लास्ट लायन’ को क्रमश: भारतीय और अंतरराष्ट्रीय वर्गों के सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार मिले। ‘चार-द नो मैन्स आइलैंड’ को पर्यावरण संरक्षण पर आधारित वर्ग में भारतीय फिल्मों की श्रेणी के तहत दिखाया गया और ‘लास्ट लायन्स’ को अंतरराष्ट्रीय फीचर फिल्म की श्रेणी में दिखाया गया।

समारोह के अंतिम दिन कल शाम को 11 वर्गों में कुल 33 पुरस्कारों की घोषणा की गई। ये पुरस्कार केंद्रीय मंत्री के एस राव और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने प्रदान किए। पुरस्कार के विजेताओं का चयन 13 सदस्यीय ज्यूरी द्वारा किया गया था। इनकी अध्यक्षता फिल्मकार अमोल पालेकर ने की थी। अंतरराष्ट्रीय पुरस्कारों की ज्यूरी की अध्यक्षता पुरस्कार प्राप्त फिल्मकार रमेश शर्मा ने की।
 
इसके अलावा जिन भारतीय फिल्मों को पुरस्कार मिले, उनमें ‘द फ्लाइट’, ‘चिलिका-ज्वैल ऑफ ओडिशा’ और ‘टाइगर डायनेस्टी’ शामिल हैं। ज्यूरी स्पेशल मेंशन अवॉर्ड रीता बनर्जी की ‘गौर इन माई गार्डन’ और सुरेश एलामन की ‘मैंगरोव्ज-फॉरेस्ट्स ऑफ टाइड’ को मिला। इस समारोह का मुख्य विषय ‘जैवविविधता संरक्षण को मुख्यधारा में लाना’ था। समारोह का आयोजन किसी सभागार में नहीं बल्कि आईजीएनसीए में खुले में किया गया। फिल्म समारोह के आयोजकों ने कहा कि इस समारोह ने मुख्यधारा के जैवविविधता के मुद्दों को आम जनता के बीच लाने का प्रयास किया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You