कश्मीरी युवक की खगोल विज्ञान परियोजना को नासा ने किया स्वीकृत

  • कश्मीरी युवक की खगोल विज्ञान परियोजना को नासा ने किया स्वीकृत
You Are HereNational
Thursday, February 06, 2014-3:47 PM

श्रीनगर: घाटी के सुदूर इलाके में बसे एक गांव के कश्मीरी युवक की दो खगोल परियोजनाओं को अमेरिका स्थित नासा के केनेडी स्पेस सेंटर से स्वीकृति मिली है। रक्षा विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग जिले के मत्तन इलाका निवासी आसिफ अली का संबंध बेहद साधारण परिवार से है। आसिफ भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान और तकनीक संस्थान (आईआईएसटी), केरल में अध्ययन करते हंै।
 
अली जिन परियोजनाओं पर कार्य करेंगे उनमें एस्टेरॉयड की गणना और गामा किरणों के उत्सर्जन के प्रभाव का अध्ययन शामिल हैं। प्रवक्ता ने बताया, ‘‘नासा उनकी परियोजना में सहयोग करेगा और उनके शोध के विचारों का स्वागत करेगा जो उनके कैरियर को आगे बढ़ाने की दिशा में सहयोगी सिद्ध होगा।’’
 
अली ने आईआईएसटी से बीटेक किया है और वहीं से एमएस की डिग्री के लिए अध्ययन कर रहे हैं। जल्द ही अपनी परियोजनाओं पर शोध के लिए वे नासा प्रस्थान करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘मैं नासा (अमेरिका) के लिए जल्द प्रस्थान कर अपनी परियोजना शुरू करने वाला हूं। मेरे दिमाग में कुछ और परियोजनाएं भी हैं जो भारत में विशेषकर हमारे राज्य में दूरसंचार की समस्याओं पर आधारित हैं।’’

अली अनंतनाग जिले में एशमुकाम स्थित आर्मी गुडविल स्कूल के छात्र रह चुके हैं, आगे की पढ़ाई उन्होंने सरकारी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय से पूरी की। उनके पिता पशु पालन विभाग में अधिकारी के पद से सेवानिवृत्त हुए और उनकी माता एक गृहिणी हैं। प्रवक्ता ने बताया कि उनकी उपलब्धियों को हाल के दिनों में सेना द्वारा काफी सराहा गया और अनंतनाग में इंजीनियरिंग के छात्रों की उपस्थिति में उन्हें सम्मानित भी किया गया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You