मुलायम एक रणनीति के तहत मोदी पर बोल रहे हैं हमला

  • मुलायम एक रणनीति के तहत मोदी पर बोल रहे हैं हमला
You Are HereNational
Sunday, February 09, 2014-7:40 PM

लखनऊ: लोकसभा चुनाव के मद्देनजर ताबड़तोड़ रैलियों के आयोजन में जुटी समाजवादी पार्टी (सपा) की पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में 11 फरवरी को होने वाली रैली में पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव के निशाने पर मुख्य रूप से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और उसके प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ही होंगे।

मुलायम की सहारनपुर में सातवीं ‘देश बचाओ देश बनाओ’ रैली है। अभी तक की रैलियों में मुलायम ने ज्यादातर हमला मोदी पर ही किया है।  राजनीतिक समीक्षकों का मानना है कि मुलायम खासतौर पर अपने वोट बैंक मुसलमानों को यह संदेश देना चाहते हैं कि भाजपा को सत्ता में आने से वही रोक सकते हैं इसीलिए वह भाजपा से रैलियों के मामले में एक कदम आगे ही रहना चाह रहे हैं।

समीक्षकों का कहना है कि मुजफ्फरनगर दंगों की वजह से सपा की लोकप्रियता में कमी महसूस की गई थी लेकिन राजनीति के कुशल खिलाड़ी माने जाने वाले मुलायम सिंह यादव ताबडतोड रैलियां कर एक सीमा तक (डैमेज कण्ट्रोल) करने में सफल रहे।  माना जा रहा है कि मुस्लिमों के लिए कई योजनाएं चलाने वाली सपा सरकार ने मुसलमानों में अपनी पैठ बनाए रखने के लिए मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक जैसे अहम सरकारी पद पर इसी वर्ग के अधिकारियों की नियुक्ति कर रखी है। आजमगढ़ में गत 29 अक्टूबर को अपनी पहली रैली से ही मुलायम ने भाजपा और मोदी पर आक्रामक रुख अपनाया हुआ है। मुलायम ने चार रैलियां  मोदी की रैलियों के दिन ही की थी जबकि आगामी 15 फरवरी को गोरखपुर के उसी मानवेला मैदान पर करने जा रहे हैं जहां मोदी की रैली हुई थी। वह हर तरह से भाजपा से अपने को मजबूत दिखाना चाह रहे हैं ताकि केन्द्र की सत्ता में भाजपा को आने से रोकने के साथ ही तीसरे मोर्चे की सरकार बनने की संभावना बरकरार रहे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You