पुस्तकों से इस्लाम से संबंधित आत्तिजनक सामग्री हटाई

  • पुस्तकों से इस्लाम से संबंधित आत्तिजनक सामग्री हटाई
You Are HereNational
Monday, February 10, 2014-4:13 PM

नई दिल्ली: राष्ट्रीय शैक्षणिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) ने इतिहास की पुस्तकों में इस्लाम से संबंधित आपत्तिजनक सामग्री को हटा दिया है। केन्द्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री शशि थरूर ने आज राज्यसभा में एक लिखित प्रश्न के उत्तर में यह जानकारी दी। थरूर ने बताया कि केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड को समाज के विभिन्न वर्गो से ग्याहवीं कक्षा के इतिहास की पुस्तकों के बारे में कुछ शिकायतें मिली थीं। उन्होंने बताया कि पहले शिकायत इस्लाम का उदय और विस्तार के बारे में प्राप्त हुई।

 

इसके अलावा नवीं कक्षा की इतिहास की पुस्तकों के बारे में ‘नादर समुदाय’ के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणियों के बारे में भी शिकायतें प्राप्त हुई। उन्होंने बताया कि केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने समाज विज्ञान की समिति के पास इस मामले को रखा था। समिति ने इस मामले को एन.सी.ई.आर.टी को भेजा। बाद में एन.एस.ईआरटी ने पाठ्यपुस्तक विकास समिति से संपर्क करके पाठ्यपुस्तक में संशोधन कर दिया।

 

थरूर ने बताया कि 2006 में भी पहली, छठी, नवीं, ग्यारहवीं कक्षा की हिन्दी पुस्तकों में कई लेखकों की रचनाओं में कई आपत्तिजनक सामग्री को लेकर शिकायतें मिली थीं लेकिन ऐसी अभिव्यक्तियों को संपूर्णता में देखा जाना चाहिए। प्रो. यशपाल की अध्यक्षता में गठित समिति ने इसकी जांच कर इसमें आवश्यक संशोधिन किए थे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You