समाज के सभी तबकों का विकास करना होगा: मोदी

  • समाज के सभी तबकों का विकास करना होगा: मोदी
You Are HereNational
Friday, February 14, 2014-4:07 PM

अहमदाबाद:  आयात, खास कर इलेक्ट्रानिक वस्तुओं के आयात पर निर्भरता कम करने पर जोर देते हुये भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी ने विनिर्माण क्षेत्र के विकास पर ध्यान दिए जाने पर आज बल दिया। उन्होंने कहा कि आयात पर संतुलित निर्भरता से छुटकारे और बेहतर समावेशी वृद्धि के लिये सेवा क्षेत्र के साथ साथ विनिर्माण क्षेत्र पर भी ध्यान देने की जरूरत है। मोदी ने यहां 25वें नास्कॉम लीडरशिप सम्मेलन को वेबकास्ट के जरिये संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा ‘‘हमारे कुल आयात में इलेक्ट्रानिक्स के आयात हिस्सा काफी बड़ा है।

हमें विशेष तौर पर रक्षा जैसे रणनीतिक क्षेत्रों में विनिर्माण कार्यों पर ध्यान देना चाहिये। सभी को साथ लेकर आगे बढ़ाने की समावेशी वृद्धि के लिये साफ्टवेयर के साथ हार्डवेयर क्षेत्र को भी प्रोत्साहन दिये जाने की जरूरत है।’’ मोदी ने कहा कि देश के समक्ष कई तरह की चुनौतियां हैं, इन चुनौतियों को बेहतर अवसरों में परिवर्तित किया जा सकता है। सूचना प्रौद्योगिकी :आईटी: को उन्होंने बदलाव का एजेंट बताते हुये कहा कि इसमें देश में कई तरह से बदलाव लाने की ताकत है। उन्होंने कहा ‘‘मैं आईटी को बदलाव के एजेंट की तरह देखता हूं। यह देश के अलग थलग पड़े हिस्सों को आपस में जोड़ सकता है और उन्हें भी ताकतवर बनाता है जिससे बेहतर तालमेल बनता है। आईटी आम लोगों को सरकार के साथ जोड़ता है। मांग और आपूर्ति के बीच के फासले को दूर करता है और हमें जानकारी के ज्यादा नजदीक पहुंचाता है।’’

भारतीय जनता पार्टी के इस वरिष्ठ नेता ने कहा कि देश में समावेशी विकास की बात की जा रही है लेकिन इसके लिये आईटी के साथ ही समावेशी अवसंरचना की भी जरूरत है। उन्होंने कहा ‘‘हम देश को तेज समावेशी विकास के रास्ते पर लायेंगे।’’

गुजरात के मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रशासन संचालन में भी आईटी यानी ई..गवनेंस सबसे प्रभावी तरीका बन गया है। ‘‘मैं यह कहता रहता हूं ‘‘आईटी जमा आईटी बराबर आई टी।’’ यानी ‘‘इंडियन टेलेंट जमा इंफार्मेशन टैक्नालॉजी :बराबर: इंडिया टुमारो।’’ उन्होंने कहा कि आईटी क्षेत्र ब्रांड भारत की रोशनी बन सकता है। मोदी ने कहा कि यह सचाई है कि ऐसे उद्योग समूह जिनमें उपर से लेकर नीचे तक सूचनाओं का आदान प्रदान खुलकर होता है और जिनमें उपर से प्रभावी दिशानिर्देश नीचे तक पहुंचते हैं ऐसे समूह सफल होते हैं। 

मोदी ने प्रशासन के संचालन में आम जनता तक पहुंचने के लिये ई..गवर्नेंस को प्रभावी जरिया बताते हुये उन्होंने कहा ‘‘ई..गवर्नेंस से सरकार का दखल कम से कम और सरकारी काम ज्यादा से ज्यादा होता है। यह सरल, प्रभावी और आर्थिक रूप से बेहतर शासन का तरीका बताता है।’’ नास्कॉम को उसके रजत जयंती वर्ष में लोगों को आईटी क्षेत्र में अधिक से अधिक कुशल बनाने पर जोर देते हुये उन्होंने कहा ‘‘हमें आज कौशल की जरूरत है। नास्कॉम को रजत जयंती वर्ष में इस पर ध्यान देना चाहिये।’’
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You