केजरीवाल शासन चलाने के प्रति कभी गंभीर नहीं थे: दीक्षित

  • केजरीवाल शासन चलाने के प्रति कभी गंभीर नहीं थे: दीक्षित
You Are HereNational
Friday, February 14, 2014-10:56 PM

नई दिल्ली: कांग्रेस ने आज रात अरविंद केजरीवाल पर ‘‘नकारात्मक व्यक्ति, चिकनी चुपड़ी बातें करने वाला और साफ तौर पर झूठ बोलने वाला’’ व्यक्ति होने का आरोप लगाया जो बचकर भागने का कोई बहाना ढूंढ रहे थे। केजरीवाल ने दिल्ली के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। कांग्रेस ने कहा कि वह शासन चलाने के प्रति कभी गंभीर नहीं थे और उनका इस्तीफा पहले से अनुमानित था।

केजरीवाल पर संविधान का उल्लंघन करने का आरोप लगाते हुए पार्टी प्रवक्ता संदीप दीक्षित ने कहा, ‘‘वह मूलत: नकारात्मक व्यक्ति हैं जिसने अपने समूचे जीवन में कुछ भी गंभीर काम नहीं किया और शुरूआत से लेकर अंत तक ‘बड़ा ड्रामा’ था।’’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘वह (केजरीवाल) बचकर भागने का बहाना तलाश रहे थे। उन्होंने संविधान का उल्लंघन करने की कोशिश की और वह सफाई से झूठ बोलने वाले हैं। उन्होंने कांग्रेस पर हमला करने के दौरान बेधड़क झूठ बोला।’’

दीक्षित ने प्रेस ट्रस्ट से कहा, ‘‘वह शासन करने के प्रति कभी गंभीर नहीं थे और उनकी सरकार का जाना एक बड़े नाटक का अंत है। वह बचकर भाग निकलने का कोई बहाना ढूंढ लेंगे और शहीद की तरह खुद को पेश करेंगे।’’ भाजपा और कांग्रेस पर हमला करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने की केजरीवाल की घोषणा के तुरंत बाद उन पर पलटवार करते हुए दीक्षित ने कहा, ‘‘जो लोग कानून की स्थापित प्रक्रियाओं को तोड़ते-मरोड़ते हैं वे भी बेईमान हैं।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You