75 फीसदी सरकारी स्कूलों में नहीं है वर्षा जल संग्रहण

  • 75 फीसदी सरकारी स्कूलों में नहीं है वर्षा जल संग्रहण
You Are HereNational
Monday, February 17, 2014-12:27 AM
नई दिल्ली(रोहित राय): दिल्ली के 75 फीसदी सरकारी स्कूलों में वर्षा जल संग्रहण (वॉटर हारवेस्टिंग सिस्टम) नहीं है। बरसाती पानी को जमीन तक पहुंचाने के लिए बनाया गया यह सिस्टम शिक्षा निदेशालय के दस्तावेजों तक ही सिमट कर रह गया है। जमीनी स्तर पर इसकी हालत बेहद बदतर है। 
 
शिक्षा निदेशालय के निर्देश के मुताबिक सभी सरकारी स्कूलों में वर्षा जल संग्रहण की योजना को लागू करने तथा इस सिस्टम को सुचारू रूप से चलाने की बात कही गई है लेकिन हकीकत इसके एकदम उलट है। जिन स्कूलों में यह सिस्टम बनाया गया था वो अब बंद हो चुका है। स्कूल प्रबंधनों की लापरवाही के कारण यह योजना फेल हो गई है। 
 
पश्चिमी दिल्ली के रमेश नगर स्थित राजकीय सर्वोदय बाल विद्यालय में जल संग्रहण की व्यवस्था लंबे समय से बंद पड़ी है। यहां दोपहर के समय कपड़े सुखाए जाते हैं। इस स्कूल के एक अधिकारी से जब इस मामले में बात की गई तो उन्होंने कहा कि जल संग्रहण की योजना और इंतजाम की जिम्मेदारी लोक निर्माण विभाग (पी.डब्लू.डी.) की है, इसलिए सिस्टम बंद पड़ा है। अधिकारी ने कहा कि सिर्फ उनके स्कूल में ही नहीं, बल्कि अधिकतर स्कूलों में जल संग्रहण की योजना और इंतजाम काम नहीं कर रहे।
 
बाहरी दिल्ली के तो 90 प्रतिशत स्कूलों में बरसाती पानी को बचाने की कोई योजना ही नहीं है। नांगलोई की एस.पी. रोड स्थित राजकीय सर्वोदय कन्या विद्यालय में भी  बारिश के पानी को बचाने की कोई योजना नहीं है। इस स्कूल के छात्रों ने बताया कि बरसाती पानी को बचाने की बात तो स्कूल में की जाती है लेकिन छात्रों को पानी कैसे बचाना है, इसकी जानकारी नहीं दी जाती।
 
नांगलोई की एस.पी. रोड स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक बाल विद्यालय में भी कुछ ऐसा ही हाल है। यहां भी बारिश के पानी को बचाने का और उसे जमीन के नीचे पहुंचाने का कोई इंतजाम नहीं है। 
 
फिलहाल सैंटर फॉर साइंस एंड एनवायरनमैंट (सी.एस.ई.) 2 दिन का कोर्स कराता है जिसमें बताया जाता है कि वर्षा जल संग्रहण कैसे किया जाता है। जानकारों के मुताबिक जल संग्रहण के लिए लोगों की आपस में भागीदारी की बेहद जरूरत है जिससे पानी को बर्बाद होने से बचाया जा सकता है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You