'चिदंबरम का अंतरिम बजट संप्रग सरकार का विदाई बजट'

You Are HereNational
Monday, February 17, 2014-5:11 PM

नई दिल्ली: वित्त मंत्री पी चिदंबरम की ओर से पेश अंतरिम बजट को विदाई बजट करार देते हुए भाजपा ने आज आरोप लगाया कि वित्त मंत्री ने संविधान के प्रावधानों का उल्लंघन करते हुए कई घोषणाएं की हैं और कांग्रेस नीत संप्रग सरकार ने पिछले 10 वर्ष के शासनकाल में अर्थव्यवस्था को चौपट करने का काम किया है। भाजपा महासचिव अनंत कुमार ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘ यह तो सिर्फ विदाई का बजट र्है। इसका कोई मतलब नहीं है। इस सरकार ने हमेशा बड़ी बड़ी घोषणाएं कीं और अमल में कुछ भी नहीं आया। इन घोषणाओं से कुछ हासिल नहीं होगा। ये वापस आने वाले नहीं हैं।’’

उन्होंने कहा कि संविधान के अनुच्छेद 116 को देखें तब अंतरिम बजट में सिर्फ खर्च के लिए राशि मांगने की बात है लेकिन चिदंबरम ने काफी घोषणाएं कीं। चिदंबरम कठिन परिश्रम की बात करते हैं और उनके कठिन परिश्रम से 10 सालों में देश कंगाल हो गया। वे अनर्थशास्त्री रहे हैं जो देश की अर्थव्यवस्था से स्पष्ट होता है।
 
भाजपा प्रवक्ता प्रकाश जावडेकर ने कहा कि यह चुनाव को ध्यान रखते हुए दिया गया विदाई का बजट है। सरकार ने बजट में दुनिया के बजट का उल्लेख किया है लेकिन यह भूल गई की दुनिया के देशों का बजट काफी बड़ा है। हमारी अर्थव्यवस्था जिस रफ्तार से नीचे जा रही है उसका आम लोगों पर काफी खराब प्रभाव पड़ रहा है। पूर्व वित्त मंत्री एवं भाजपा नेता जसवंत सिंह ने कहा कि यह अंतरिम बजट है और इसमें कुछ भी नया नहीं है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You