अंतरिम बजट सरकार की विफलताओं को छिपाने की कोशिश: राजनाथ

  • अंतरिम बजट सरकार की  विफलताओं को छिपाने की कोशिश: राजनाथ
You Are HereNational
Monday, February 17, 2014-5:32 PM

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने  वित्त मंत्री पी चिदम्बरम के अंतरिम बजट को  संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन. संप्रग. सरकार की विफलताओं को छिपाने की विफल कोशिश करार देते हुए कहा है कि केन्द्र की सत्ता में आने पर उनकी पार्टी की सरकार अर्थव्यवस्था की सभी समस्याओं का समाधान कर उसे पटरी पर लायेगी। सिंह ने वर्ष 2014.15  के अंतरिम बजट पर प्रतिक्रिया करते हुए कहा है कि वित्त मंत्री ने आंकडों की बाजीगरी करते हुए मौजूदा वित्त वर्ष का वित्तीय घाटा 4.6 फीसदी बताया है 1

इसके अलावा उन्होंने ईंधन पर 35000 करोड रूपये की सब्सिडी की घोषणा कर भविष्य की  लुभावनी तस्वीर पेश करने की कोशिश की है1 उन्होंने कहा कि आगामी वित्त वर्ष के लिए वित्तीय घाटे को 4.1 फीसदी लाने का वादा विश्वसनीय नहीं है क्योंकि उन्होंने सब्सिडी का बिल मौजूदा वर्ष की तरह 2.46 लाख करोड रूपये ही रखा है भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि 3.3 फीसदी के राजस्व घाटे से संकेत मिलते हैं कि सरकार ने फिजूलखर्ची पर लगाम लगाने के लिए कुछ नहीं किया है।

सरकार योजना व्यय में भारी कटौती के बाद ही अपने वित्तलक्ष्यों तक पहुंचती दिखाई दी है1 इसका मतलब यह हुआ कि सरकार ने अर्थव्यवस्था में निवेश में कमी की है। उन्होंने कहा कि सेना के सेवा निवृत कर्मचारियों के लिए . एक रैंक एक पेंशन.. की घोषणा स्वागत योग्य कदम है1 हालांकि सरकार ने यह कदम इस बारे में भाजपा के रूख को देखते हुए उठाया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You