‘मोदी PM बनें तो पाकिस्तान या चीन से युद्ध होने पर आश्चर्य नहीं होगा’

  • ‘मोदी PM बनें तो पाकिस्तान या चीन से युद्ध होने पर आश्चर्य नहीं होगा’
You Are HereNational
Tuesday, February 18, 2014-10:47 AM

अहमबादबाद: मानवाधिकार कार्यकर्ता और बंबई उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश एच. सुरेश ने आज कहा कि नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री पद के लिए उपयुक्त नहीं हैं क्योंकि वह साम्प्रदायिकता और कॉरपोरेट समर्थक हैं। पब्लिक यूनियन फॉर सिविल लिबरटिज द्वारा आयोजित एक पुस्तक विमोचन समारोह में न्यायमूर्ति सुरेश ने मोदी की राजनीतिक उत्पत्ति आरएसएस के प्रचारक के रूप में होने पर सवाल उठाया। सुरेश ने कहा, ‘‘वह (मोदी) वैश्वीकरण और साम्प्रादियकता के समर्थक हैं। वह प्रधानमंत्री पद के लिए एक उपयुक्त उम्मीदवार नहीं हैं।’’

उन्होंने मोदी का अतीत आरएसएस कार्यकर्ता का होने का हवाला देते हुए कहा, ‘‘मुख्यमंत्री बनने के बाद क्या उन्होंने राम मंदिर, समान नागरिक संहिता या अनुच्छेद 370 का एजेंडा छोड़ दिया।’’ उन्होंने कहा कि जब एडोल्फ हिटलर जर्मनी का चांसलर बना तो द्वितीय विश्व युद्ध हुआ, ‘‘उन्हें मोदी के शीर्ष पद पर काबिज होने के बाद पाकिस्तान या चीन से युद्ध होने पर आश्चर्य नहीं होगा।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी ने 2002 के दंगों को लेकर अपने खिलाफ नरसंहार का अभियोजन होने के डर से कभी यूरोपीय संघ के देशों की यात्रा नहीं की।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You