महाकालेश्वर मंदिर में महाशिवरात्रि पर्व की तैयारियां जोरों पर

  • महाकालेश्वर मंदिर में महाशिवरात्रि पर्व की तैयारियां जोरों पर
You Are HereNational
Tuesday, February 18, 2014-2:31 PM

उज्जैन: महाशिवरात्रि पर्व भारतीय संस्कृति के अनुसार शिव विवाह की वर्षगांठ के रुप में परंपरागत तरीके से मनाये जाने वाले विश्व प्रसिद्ध भगवान महाकालेश्वर मंदिर में देश के विभिन्न प्रांतो से यहां आने वालें दर्शनार्थियं को कम समय में सुविधापूर्वक दर्शन सुनिश्चित कराने के लिये तैयारियो को अंतिम रुप दिया जा रहा है। हालांकि महाशिवरात्रि पर्व आगामी 27 फरवरी को मनाया जाएगा लेकिन भारत के बारह ज्योर्तिलिंगों में प्रमुख प्रसिद्ध भगवान महाकालेश्वर मंदिर में महाशिवरात्रि पर्व के पूर्व नौ दिनो तक उत्साहपूर्वक मनाई जाने वाली नवरात्रि 19 फरवरी से प्रारंभ होगी।

 

महाशिवरात्रि पर्व पर इस बार पांच लाख से अधिक दर्शनार्थियों के आने की संभावना के मद्देनजर महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति व जिला एव पुलिस प्रशासन उनकी सुरक्षा एवं सुविधा की व्यापक स्तर पर तैयारियां की हैं ताकि देश के विभिन्न प्रांतो से यहां आने वालें श्रद्धालुओं को कम से कम समय में सुविधाजनक दर्शन हो सके। भगवान महाकालेश्वर मंदिर में नौ दिनो तक चलने वालें नवरात्रि पर्व पर प्रतिदिन भगवाग महाकालेश्वर को प्राचीन परंपरागत तरीके से दूल्हे के अलग-अलग मुखौटो के रुप में सुसज्जित करने के साथ करोड़ रुपयें मूल्य के आभूषणो पहनाकर श्रृंगार किया जाता है।

 

सबसे नीचे खंड में महाकालेश्वर, दूसरे खंड में ओकारेंश्वर एवं तीसरे खंड में नागचन्द्रेश्वर भगवान की प्रतिमा है और तीन खंडो में विभक्त मंदिर के विशाल परिसर को महाशिवरात्रि पर्व के मौके पर आकर्षक विद्युत सजा से सुज्जितकर विवाह मंडप के रुप में सजाया जाता है। मंदिर में प्रतिदिन तड़के होने वालें भस्मार्ती भी महाशिवरात्रि पर्व के दूसरे दिन साल में मध्यांह 12 बजे की जाती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You