Subscribe Now!

आखिर क्या मायने हैं मोदी, केजरीवाल और राहुल के सिग्‍नेचर के

  • आखिर क्या मायने हैं मोदी, केजरीवाल और राहुल के सिग्‍नेचर के
You Are HereJyotish
Wednesday, February 19, 2014-12:24 PM

नई दिल्ली: गुजरात के सीएम और बीजेपी के पीएम इन वेटिंग नरेंद्र मोदी, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों काफी किसी न किसी वजह को लेकर सुर्खियों में हैं। मोदी की रैली हो, केजरीवाल का सीएम पद से इस्तीफे का ड्रामा हो या फिर राहुल गांधी के मुकाबले आप के नेता कुमार विश्वास का अमेठी से लोकसभा चुनावों पर खड़े होने का मामला हो, तीनों ही मीडिया में काफी चचा में हैं और आम जनता की नजरें भी इन तीनों पर टिकीं हैं कि आखिर इन तीनों में से कौन पीएम की कुसी पर बैठेगा। काफी लोगों को इनके बारे में काफी कुछ पता होगा और कई इनके बारे में जानना चाहते होंगे। एक न्यूज चैनल को सिग्‍नेचर एक्‍सपर्ट और लोगो डिजाइनर मानकलाल अग्रवाल इन तीनों के दस्‍तखत और स्‍वभाव के बारे में बताया।

सिग्‍नेचर एक्‍सपर्ट अग्रवाल के अनुसार बीजेपी के पीएम इन वेटिंग नरेंद्र मोदी के सिग्‍नेचर बताते हैं कि मोदी आत्‍मविश्‍वास से लबरेज हैं और वे हर चीज की जानकारी रखते हैं। मोदी को भी काम पूरी तैयारी के साथ करते हैं लेकिन अगर कोई उनकी बेइज्‍जती करता है तो वे इसे भूलते नहीं हैं। मोदी में नेतृत्‍व का गुण कूट-कूट कर भरा है। कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी के सिग्‍नेचर के बारे में अग्रवाल ने कहा कि वे एक मेहनती इंसान हैं और कोई भी काम बेहतर प्‍लानिंग के साथ करते हैं। लेकिन राहुल की कमजोरी यह है कि अगर किसी काम में दिक्‍कत आई तो उसे बीच में ही छोड़ देते हैं।

आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्‍ली के पूर्व सीए अरविंद केजरीवाल के सिग्‍नेचर के बारे में अग्रवाल ने कहा कि केजरीवाल काफी भावुक इंसान हैं और किसी गलती के लिए वे खुद को भी माफ नहीं कर सकते हैं। केजरीवाल को इम्‍प्रेस करना भी बेहद कठिन है लेकिन, उनकी कमजोरी यह है कि वो आधी-अधूरी तैयारी के साथ ही कुछ करना शुरू कर देते हैं और इस वजह से उनको काम को बीच में ही छोडऩा पड़ता है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You