अन्ना ने कहा, ममता की पार्टी नहीं उनके विचारों को समर्थन

  • अन्ना ने कहा, ममता की पार्टी नहीं उनके विचारों को समर्थन
You Are HereNational
Wednesday, February 19, 2014-5:33 PM

नई दिल्ली: सामाजिक कार्यकत्र्ता अन्ना हजारे ने आज कहा कि वह अगले लोकसभा चुनाव में अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) को नहीं बल्कि ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस का समर्थन करेंगे। अन्‍ना का कहना है कि उन्‍होंने ममता की पार्टी नहीं बल्कि उनके विचारों को समर्थन दिया है। हजारे ने आज यहां पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी  के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वह चुनाव में न तो भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का और न ही केजरीवाल का समर्थन करेंगे। उनका समर्थन ममता को मिलेगा। हजारे ने कहा कि उन्होंने सभी दलों को पत्र लिख कर देश और लोगों की भलाई से जुडे 17 मुद्दों पर उनसे स्थिति स्पष्ट करने को कहा था।

उन्होंने कहा कि सिर्फ ममता की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने इसका जवाब दिया है और कहा है कि सरकार में आने पर वह इन मुद्दों पर कार्रवाई करने का प्रयास करेगी। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि केजरीवाल की पार्टी ने भी उनके पत्र का जवाब नहीं दिया। भ्रष्टाचार के विरूद्ध अभियान चलाने वाले हजारे ने कहा कि भ्रष्टाचार के विरद्ध यदि कोई मुख्यमंत्री लडाई करना चाहता है तो वह ममता हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री होने के बावजूद वह सादगी से रहती है। हजारे ने स्पष्ट किया कि किसी दल में शामिल होने के अपने बयान पर अडिग हैं। ममता ने कहा कि हजारे के 17 मुद्दों में से 2-3 को छोड़ कर शेष से पूरी तरह सहमत हैं तथा उनका मानना है कि उन्हें लागू किया जाना चाहिए।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You