श्रीनगर में ‘दोहरे न्यायिक मापदंड’ के खिलाफ प्रदर्शन

  • श्रीनगर में ‘दोहरे न्यायिक मापदंड’ के खिलाफ प्रदर्शन
You Are HereNational
Wednesday, February 19, 2014-4:30 PM

श्रीनगर: मीरवाइज उमर फारूक की अगुआई वाले अलगाववादी समूह हुर्रियत ने आज भारतीय न्यायिक प्रणाली में दोहरे मापदंड का आरोप लगाते हुए यहां प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने सभी कैद अलगाववादियों को रिहा करने के पक्ष में नारे लगाए। उन्होंने विभिन्न आरोप लिखे हुए बैनर लहराए, जिनमें लिखा था कि जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के संस्थापक मुहम्मद मकबूल भट और संसद पर हमले के लिए दोषी घोषित किए गए अफजल गुरु को बिना सबूत के फांसी दी गई।

हुर्रियत के एक नेता जावेद मीर प्रदर्शन की अगुआई कर रहे थे। प्रदर्शन शांतिपूर्ण रहा और उसके बाद वे वापस लौट गए। इस बीच सुरक्षा बलों ने किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं की। सर्वोच्च न्यायालय द्वारा राजीव गांधी हत्या मामले के दोषियों को दी गई मौत की सजा को आजीवन कारावास में बदले जाने के बाद से कई मुख्यधारा के और अलगाववादी राजनीतिज्ञ तथा सामाजिक संगठन यह सवाल उठा रहे हैं गुरु को भी यह राहत क्यों नहीं दी गई।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You