तहलका मामला: पार्रिकर ने तेजपाल के आरोपों का खंडन किया

  • तहलका मामला: पार्रिकर ने तेजपाल के आरोपों का खंडन किया
You Are HereNational
Thursday, February 20, 2014-2:11 PM

पणजी: गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पार्रिकर ने बलात्कार के आरोपों का सामना कर रहे तहलका के संस्थापक तरुण तेजपाल के उनसे राजनीतिक बदला लिए जाने संबंधी आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि अगर वह निर्दोष हैं तो वह अदालत में साबित होगा। पार्रिकर ने तेजपाल के हवाले से जारी बयान के संदर्भ में संवाददाताओं से कहा, ‘‘अगर वह (तेजपाल) इतने ही निर्दोष हैं तो उन्हें यह अदालत में साबित करना होगा।’’ तेजपाल ने कल एक बयान जारी कर कहा था कि उनके खिलाफ राजनीतिक बदले की कार्रवाई की जा रही है और सच्चाई उस सीसीटीवी फुटेज से सामने आ जाएगी जो अपराध शाखा ने होटल से ली है।

 

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘जहां तक मुझे पता है लिफ्ट में कोई सीसीटीवी नहीं लगा हुआ है।’’ उन्होंने कहा कि जब अदालत में तेजपाल की जमानत पर सुनवाई होगी तब वह अपनी बात रख सकते हैं। पार्रिकर ने कहा कि आरोप पत्र समुचित साक्ष्यों पर आधारित है जिनमें जांच एजेन्सी द्वारा हासिल की गई लैबोरेटरी की रिपोर्ट भी हैं। वासको में सादा उप जेल में बंद तेजपाल ने एक याचिका दायर कर वह सीसीटीवी फुटेज मांगी है जो गोवा पुलिस की अपराध शाखा ने आरोप पत्र में एक महत्वपूर्ण सबूत के तौर पर पेश किया है।

 

एक बयान जारी कर तेजपाल ने आरोप लगाया था कि अपराध शाखा सीसीटीवी फुटेज छुपा रही है जिससे घटना की सही जानकारी मिल पायेगी। उन्होंने आरोप लगाया है कि उनके खिलाफ राजनीतिक बदले के तौर पर कार्रवाई की जा रही है। इससे पूर्व दिन में गोवा की अदालत ने तेजपाल को होटल का सीसीटीवी फुटेज उपलब्ध कराने की अनुमति दे दी। तेजपाल पर गत नवंबर में होटल की लिफ्ट में अपनी एक कनिष्ठ सहयोगी से बलात्कार, यौन प्रताडना और शील भंग का आरोप है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You