Subscribe Now!

लोकसभा चुनाव से पहले सुरक्षा को लेकर चुनाव आयोग की समीक्षा

  • लोकसभा चुनाव से पहले सुरक्षा को लेकर चुनाव आयोग की समीक्षा
You Are HereNational
Friday, February 21, 2014-12:36 AM

नई दिल्ली: चुनाव आयोग ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए सुरक्षा एवं अन्य बंदोबस्त की समीक्षा के लिए सभी राज्यों के मुख्य सचिवोंं और पुलिस प्रमुखों की आज एक उच्च स्तरीय बैठक की। इस बारे में संकेत मिले हैं कि सात चरणों में चुनाव हो सकते हैं। बैठक के दौरान सभी राज्यों के पुलिस महानिदेशकों और गृह सचिवों के साथ सुरक्षा हालात पर चर्चा की गई। वहीं, चुनाव सामग्री की तैयारियों के बारे में मुख्य सचिवों के साथ चर्चा की गई।

बैठक से जुड़े सूत्रों ने बताया कि चुनाव के दौरान अद्र्धसैनिक बलों को ले जाने के लिए रेलवे विशेष ट्रेनें चलाएगी। उन्होंने बताया कि 16 वीं लोकसभा के लिए आगामी चुनाव छह से सात चरणों में होंंगे जिसके चलते काफी ज्यादा सुरक्षा बलों को विभिन्न स्थानों पर पहुंचाना होगा। असम, नागालैंड और मणिपुर में हिंसा की घटना में बढ़ोतरी को ध्यान में रखते हुए पूर्वोत्तर के राज्यों ने अतिरिक्त अद्र्धसैनिक बलों की मांग की है।

नक्सल प्रभावित राज्य बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और ओडि़शा तथा आतंकवाद प्रभावित जम्मू कश्मीर में चुनाव पांच चरणों में कराए जा सकते हैं। बैठक में राज्यों के शीर्ष अधिकारियों के अलावा गृह और रेल मंत्रालय के प्रतिनिधि भी शरीक थे। अगली लोकसभा का गठन 1 जून से पहले किया जाना है क्योंकि 15 वीं लोकसभा का कार्यकाल 31 मई को समाप्त हो रहा है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You