छत्तीसगढ़: डीएफओ के ठिकानों पर छापा, 5 करोड़ की संपत्ति मिली

  • छत्तीसगढ़: डीएफओ के ठिकानों पर छापा, 5 करोड़ की संपत्ति मिली
You Are HereNational
Sunday, February 23, 2014-12:32 PM

बिलासपुर/जगदलपुर: छत्तीसगढ़ में भ्रष्टाचार विरोधी ब्यूरो (एसीबी) रायपुर की अलग-अलग टीम ने शनिवार को एक बड़ी कार्रवाई करते हुए सूबे के मरवाही डीएफओ के बंगला, बिलासपुर व जगदलपुर स्थित निवास में एक साथ छापे मारे। इस दौरान उनके पास से करीब पांच करोड़ रुपये की अघोषित चल-अचल संपत्ति मिली है। उन्होंने अघोषित कमाई से खरीदी संपत्ति जमीन, मकान, प्लाट व फ्लैट को अपनी पत्नी, मम्मी-पापा के नाम पर दर्शाया है। मूलत: जगदलपुर क्षेत्र के निवासी राजेश चंदेले पिता सबेलाल (50) बिलासपुर जिले के मरवाही वनमंडल में डीएफओ के पद पर कार्यरत हैं। उनकी सेवा अवधि तरकीबन 16 साल हो चुकी है।

 

करीब दो साल पहले उनकी पदस्थापना मरवाही वनमंडल में हुई। इस दौरान उनके द्वारा बड़े पैमाने पर गड़बड़ी कर काली-कमाई करने की शिकायतें मिल रही थीं। वहीं उनके पास काफी मात्रा में आय से अधिक संपत्ति होने की सूचना एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम को मिली थी। एंटी करप्शन ब्यूरो ने उनकी संपत्ति की जांच गोपनीय रूप से की। जांच में पता चला कि डीएफओ चंदेले के पास करोड़ों रुपए की अघोषित संपत्ति है।

 

अपने स्तर पर जांच करने के बाद एसीबी की टीम ने छापा मारने की  योजना बनाई। इसी के तहत शनिवार तड़के एसीबी की करीब 50 सदस्यीय अलग-अलग टीम ने एक साथ डीएफओ चंदेले के चार ठिकानों में दबिश दी। दो टीम जगदलपुर स्थित उनके निवास, एक टीम सरकंडा के मोपका स्थित जॉब इंक्लेव व चौथी टीम ने गौरेला स्थित बंगले में दबिश दी। एसीबी के एडिशनल एसपी मनोज खिलाड़ी ने बताया कि जॉब इंक्लेव स्थित निवास में टीम ने बारीकी से तस्दीक करते हुए तलाशी ली, लेकिन यहां कोई बड़ी रकम या संपत्ति नहीं मिली। यहां जिस मकान में उनकी पत्नी हितेश चंदेले व 12 साल का बेटा शुभम व 13 साल की बेटी शुभि रहते हैं, वह मकान 15 हजार रुपये महीना किराए पर लिया गया है।

 

सुबह करीब 6 बजे से शुरू हुई कार्रवाई देर शाम जारी रही। जांच के दौरान आरोपी अफसर चंदेले से मिली चल-अचल संपत्ति की कीमत करीब पांच करोड़ रुपये आंकी गई है। इसमें दंतेश्वरी वार्ड जगदलपुर में दो मकान समेत ग्राम छोटे देवड़ा स्थित फार्म हाउस की कीमत करीब 35 लाख रुपए आंकी गई है। फार्म हाउस में डीएफओ ने आलीशान स्वीमिंग पुल भी बनवाया है। दंतेश्वरी वार्ड स्थित मकान से एक लाख 68 हजार रुपये नगदी समेत बैंक अकाउंट, फिक्स डिपाजिट, जमीन और मकान के दस्तावेज जब्त किए गए हैं। खिलाडी ने बताया कि आरोपी अफसर के सारे बैंक खाते सील कर दिए गए हैं। आरोपी के विरुद्घ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत अपराध दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। एंटी करप्शन ब्यूरो डीएफओ के अन्य निवेशों के दस्तावेज भी खंगाल रहा है।

जांच में मिली संपत्ति

-जगदलपुर के दंतेश्वरी वार्ड स्थित मकान से 1 लाख 68 हजार रुपए नगदी।
-दंतेश्वरी वार्ड में तीन मंजिला मकान।
-जगदलपुर के ही धरमपुरा में 0.8 हेक्टेयर जमीन।
-सरगीपाल में 0.8 हेक्टेयर जमीन।
-कुरंदी में 7 हेक्टेयर जमीन।
-छोटे देवड़ा में 5 हेक्टेयर जमीन में फार्म हाऊस व स्वीमिंग पुल।
-रायपुर के सेजबहार में 5 हजार स्क्वेयर फीट जमीन।
-रायपुर के मारुति रेसीडेंसी में 1971 वर्ग फीट जमीन।
-रायपुर के डूडा में 4 हजार 8 सौ वर्ग फीट जमीन।
-दुर्ग में दो आवासीय प्लॉट।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You