'कांग्रेस सरकार के गलत फैसलों के कारण चिकित्सकों की कमी'

  • 'कांग्रेस सरकार के गलत फैसलों के कारण चिकित्सकों की कमी'
You Are HereNational
Sunday, March 09, 2014-4:42 PM

देहरादून: वरिष्ठ भाजपा नेता और उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चन्द्र खण्डूरी ने प्रदेश के राज्यपाल अजीज कुरैशी द्वारा पहाड़ी जिलों में शिक्षकों और चिकित्सकों की कमी पर जतार्इ गर्इ चिंता में खुद को शरीक करते हुए आज कहा कि वर्तमान कांग्रेस सरकार के गलत फैसलों की वजह से जनता को चिकित्सा और शिक्षा से वंचित रहना पड़ रहा है ।
 
यहां जारी एक बयान में, खंडूरी ने अपनी सरकार के कार्यकाल में लाए गए तबादला एक्ट का जिक्र करते हुए कहा कि पर्वतीय अंचलों में चिकित्सकों, शिक्षकों तथा अन्य सरकारी कर्मचारियों की कमी को देखते हुए यह एक्ट लाया गया था जिससे प्रदेश के दूरस्थ गॉव में भी चिकित्सकों एवं शिक्षकों का अभाव न रहे और वहॉ के लोगों को चिकित्सा एवं शिक्षा से वंचित न रहना पड़े।
  
उन्होंने कहा, तबादला एक्ट के रहने से चिकित्सकों तथा शिक्षकों को अनिवार्य रूप से प्रदेश के पहाड़ी जनपदों में अपनी सेवायें देनी पड़ती तथा प्रदेश के पहाड़ी जनपदों में चिकित्सकों एवं शिक्षकों की कमी दूर हो जाती। इस एक्ट के रहने पर तबादलों में पूर्ण पारदर्शिता आ जाती तथा राजनैतिक हस्तक्षेप पूर्णरूप से समाप्त हो जाता ।
  
हांलांकि उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने सत्ता में आते ही बिना सोचे-समझे इस एक्ट को समाप्त कर दिया जिस कारण प्रदेश के पहाड़ी जिलों में चिकित्सकों तथा शिक्षकों की भारी कमी बनी हुई है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You