पूर्वी उत्तर प्रदेश बनेगा चुनावी संग्राम का रणक्षेत्र

  • पूर्वी उत्तर प्रदेश बनेगा चुनावी संग्राम का रणक्षेत्र
You Are HereUttar Pradesh
Tuesday, March 18, 2014-3:50 PM

गोरखपुर: वाराणसी संसदीय सीट से भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) की ओर से प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेन्द्र मोदी की उम्मीदवारी और अन्य प्रमुख नेताओं के चुनाव लडऩे की सूचनाओं के बीच पूर्वी उत्तर प्रदेश इस बार लोकसभा चुनाव में नये रणक्षेत्र के रूप में तैयार है। पूर्वी उत्तर प्रदेश को अब इस लोकसभा के चुनाव को महासमर के रणक्षेत्र के रूप में देखा जा रहा है जिससे स्वाभाविक रूप से यहां का
राजनीतिक माहौल गर्म हो गया है। भाजपा के कई वरिष्ठ नेता इस बार पूर्वी उत्तर प्रदेश को अपनी राजनीतिक सरजमीं बना रहे हैं इसलिए 2014 के लोकसभा के चुनाव में पूरे देश की नजर पूर्वी उत्तर प्रदेश की ओर होगी।

इसे देखते हुए इस क्षेत्र का राजनीतिक माहौल अभी से गरमाने लगा है। मोदी के अतिरिक्त गोरखपुर मंडल की देवरिया संसदीय क्षेत्र से भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री कलराज मिश्र को उम्मीदवार बनाये जाने से रंग और भी चोखा हो गया है हालांकि टिकटों के वितरण के बाद भाजपा में जगह-जगह विरोध का स्वर भी उभर रहा है। इसी तरह आजमगढ़ से सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव व अकबरपुर से बसपा प्रमुख मायावती के चुनाव लडऩे की अटकलों से यहां चुनावी  दृश्य और दिलचस्प हो गया है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You