मुसलमान मोदी से डरने वाला नहीं : मौलाना खालिद रशीद

  • मुसलमान मोदी से डरने वाला नहीं : मौलाना खालिद रशीद
You Are HereNational
Sunday, March 23, 2014-11:24 PM

लखनऊ: प्रसिद्ध सुन्नी धर्म गुरु और नायाब इमाम ईदगाह मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली का कहना है कि नरेन्द्र मोदी अथवा उनके जैसे दस लोग और प्रधानमंत्री बन जाएं पर जब तक इन देश का संविधान धर्मनिरपेक्ष है मुसलमान उनसे डरने वाला नहीं है। मोदी के प्रधानमंत्री बनने की बातों से समाज में कोई खौफ नहीं है। उनका कहना है कि मोदी ने गुजरात में कोई बहुत नायाब विकास नहीं कराया है।

मौलाना खालिद रशीद के मुताबिक अगर गुजरात और उत्तर प्रदेश की तुलना आबादी और क्षेत्रफल को ध्यान में रखते हुए की जाए तो उत्तर प्रदेश विकास के कई पैमानों में गुजरात से काफी आगे खड़ा दिखाई देगा। भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह द्वारा की गई माफी की बात पर मौलाना खालिद रशीद का कहना है कि पहले उन्हें यह साफ करना चाहिए कि वह किस बात की माफी मांगना चाह रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह देश की बदकिस्मती है कि इस बार का चुनाव शख्सियतों पर लड़ा जा रहा है। इसमें जनता से जुड़े रोटी, कपड़ा, मकान, सड़क, बिजली, पानी के मुद्दे काफी पीछे छूट गए हैं। आज भी आम आदमी यह चाहता है कि इन मुद्दों पर बात हो तथा इन्हें हल करने की पहल हो।

इस बार के लोकसभा चुनाव को काफी अहम बताते हुए उन्होंने कहा कि चुनाव से यह तय होगा कि देश पर धर्मनिरपेक्ष ताकतें अथवा मुल्क और कौम को नुकसान पहुंचाने वाले हुकूमत करेंगे। उन्होंने समाज के लोगों से चुनाव में निर्णायक भूमिका अदा करने की अपील की है। लोगों से शत प्रतिशत मतदान की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि वोट डालते समय प्रत्याशी तथा उसके दल द्वारा कौम की बेहतरी के लिए किए गए काम को भी ध्यान में रखा जाना चाहिए।

इमाम ने कहा कि भारत एक बहुभाषी, बहुधार्मिक व बहुजाति वाला देश है तथा मुसलमानों ने देश की तरक्की में बढ़चढ़कर योगदान किया है। इसलिए सभी लोगों की यह जिम्मेदारी भी है कि वे ऐसे कि सभी कदम का विरोध करें जो देश को तबाही की ओर ले जाने वाला हो। उन्होंने कहा कि देश में रहने वाले लोग धर्मनिरपेक्ष देश के समझदार नागरिक हैं इसलिए साम्प्रदायिक ताकतों को सत्ता पर काबिज होने से रोकना सभी की पहली जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि धर्म निरपेक्षता के सिद्धान्त को मानने वालों को यह प्रयास करना चाहिए कि अल्पसंख्यक देश में सुरक्षित रहें व देश की गंगा-जमनी तहजीब पर जरा सी आंच न आने पाए।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You