नक्सलियों ने बस्तर की धरती को खून से रंग दिया: मोदी

  • नक्सलियों ने बस्तर की धरती को खून से रंग दिया: मोदी
You Are HereMadhya Pradesh
Saturday, March 29, 2014-5:41 PM

जगदलपुर/कोंडागांव: भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने कहा कि नक्सलियों ने बस्तर की धरती को खून से रंग दिया है पर पाबंदी के बावजूद लोकतंत्र पर विश्वास रखने वाले लोग यहां रहते हैं और मतदान करते हैं। नक्सली लोकतंत्र की इस ताकत को समझें, लोगों को मारने-मरने का वक्त चला गया है।

भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कोंडागांव जिला मुख्यालय के स्टेडियम ग्राउंड में विशाल चुनावी सभा को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कांग्रेस के 10 साल के शासन पर तीखे हमले करते हुए कहा कि महंगाई, भ्रष्टाचार व शोषण के खात्मे के लिए भारत विजय रैली का आयोजन किया जा रहा है। यह पहला चुनाव है जो प्रत्याशी या दल नहीं बल्कि पूरा देश लड़ रहा है क्योंकि देश की जनता दिल्ली सरकार को सजा देने के मूड में है।

उन्होंने कहा कि कहीं मोदी न आ जाए इसलिए लोग गोलबंद हो रहे हैं। यह डर इसलिए है कि क्योंकि सत्ता का स्वाद चख चुके लोगों का पाप उन्हें परेशान कर रहा है। 16 मई के बाद उनकी जगह कहां होगी यह उन्हें पता है। उन्होंने कहा कि चुनाव का नतीजा साफ दिख रहा है। देश की जनता कांग्रेस को ज्यादा झेलने को तैयार नहीं है, उनके पाप का घड़ा भर चुका है। कांग्रेस के चुनावी घोषणापत्र को धोखा पत्र करार देते मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने 2009 में 100 दिन में महंगाई कम करने की घोषणा कर जनता को धोखा दिया है। 10 साल में भ्रष्टाचार के पुराने सभी रिकार्ड तोड़ दिए हैं।

मोदी ने कहा कि देश मे 40 प्रतिशत आदिवासी छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश व राजस्थान में हैं। आदिवासी कल्याण की शुरुआत भाजपा के शासनकाल में हुई है। कांग्रेस शासित प्रदेशों में आदिवासियों का विकास नजर नहीं आता क्योंकि वे आदिवासी को महज वोट का खजाना समझते हैं। उन्होंने कहा कि देश की जनता को यह फैसला करना है कि उन्हें सोने का चम्मच लेकर पैदा होने वाला शासक चाहिए या चाय बेचने वाला जनता का सेवक। सभा को मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय, पूर्व मंत्री लता उसेंडी ने भी संबोधित किया।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You