गर्लफ्रेंड की मदद से रईसजादों को बनाता था निशाना

  • गर्लफ्रेंड की मदद से रईसजादों को बनाता था निशाना
You Are HereNational
Tuesday, April 08, 2014-1:56 PM
नई दिल्ली : दक्षिण पूर्वी जिला के अमर कालोनी थाना पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है जो अपनी गर्लफ्रेंड की मदद से मिलने के बहाने लोगों को बुलाता था। उसके बाद लूटपाट की वारदात को अंजाम देते थे। यह लोग खासकर 5 सितारा होटल जाने वाले रईसजादों को अपना निशाना बनाते थे। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान बदायू यू.पी. निवासी सुनील कुमार गुप्ता(23) उसकी गर्लफ्रेंड जसौल निवासी जोया(19) और उसके साथी सुनील कुमार(28)और रिंकू शर्मा (25)के रूप में हुई हैं। पुलिस ने उनके पास से लूटा गया वॉच, आई फोन, 9 हजार नकदी और वारदात में इस्तेमाल डंडा भी बरामद किया है। 
 
दक्षिण पूर्वी जिला के डी.सी.पी. पी.करुणाकरण ने बताया कि ग्रीन पार्क निवासी डी.नामगायल ने अमर कालोनी थाना में शिकायत दर्ज करवाई थी कि 30/31 मार्च की रात को वह एक 5 सितारा होटल में गए थे, जहां पर एक युवती मिली थी। उसके बाद दोनों अपना मोबाइल नंबर एक दूसरे को दिया। दूसरे दिन युवती ने उससे फोन पर बातचीत की और गढ़ी स्थित नीम चौक के पास मिलने के लिया बुलाया। 1 अपै्रल की दोपहर करीब 1:30 बजे मिलने के लिए गया।
 
वहां पर डी.डी.ए. फ्लैट के पास एक कार के पास युवती खड़ी हुई मिला। अभी वह बातचीत ही कर रहे थे। तभी कार से 3 युवक निकले व डंडे से पिटाई कर उसका महंगी घड़ी, आई फोन व ए.टी.एम. लूट सभी फरार हो गए। 
 
पीड़ित के शिकायत के बाद लाजपत नगर ए.सी.पी. शंक चौधरी के देखरेख व अमर कालोनी थानाप्रभारी रमेश दाहिया के नेतृत्व में जांच के लिए टीम बनाई गई। पुलिस ने उस नंबर को सॢवलांस पर लगा दिया जिससे पीड़ित की बातचीत हुई थी। इस दौरान पुलिस को पता चला कि यह नंबर दयानंद इलाके में चल रहा है और सब्जी बेचने वाला वैंडर सुनील कुमार गुप्ता का है। पुलिस ने उस सी.सी.टी.वी. फुटेज की भी जांच की, जिसमें एक शख्स लूटे गए ए.टी.एम. से पैसे निकाल रहा था। जांच में सुनील का फोटो सी.सी.टी.वी. फुटेज से मिल गया।
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You