Subscribe Now!

PM मोदी के डीजिटल इंडिया का असर, पहली बार 31 कन्याओं का हुआ कैशलेस विवाह

  • PM मोदी के डीजिटल इंडिया का असर, पहली बार 31 कन्याओं का हुआ कैशलेस विवाह
You Are HereNational
Monday, October 30, 2017-11:30 AM

श्रीगंगानगरः राजस्थान के श्रीगंगानगर में पदमपुर रोड स्थित धन-धन बाबा दीपसिंह सेवा समिति के तत्वावधान में 31 जरुरतमंद कन्याओं का सामूहिक विवाह किया गया। इस सामूहिक विवाह की खास बात ये रही कि पूरा आयोजन कैशलेस रहा। इसमें एक भी रुपए नकदी के रूप में इस्तेमाल नहीं किया गया। आयोजकों ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डीजिटल इंडिया के अभियान का समर्थन करते हुए सभी ने आयोजन को कैशलेस करने का फैसला लिया गया था।

हिंदू रीति रिवाज और आनंद कारज से हुआ विवाह
इस सामूहिक विवाह में एक तरफ हिंदू रीति रिवाज के साथ मंत्रों सहित फेरे लेकर दूल्हा-दुल्हन परिणय सूत्र में बंधे तो दूसरी ओर श्रीगुरु ग्रंथ साहिब के सामने ग्रंथी ने दूल्हा-दुल्हन का आनंद कारज करवाया। दो अलग-अलग रीति-रिवाजों के बीच हुए इस विवाह में सिर्फ विधि अलग थी लेकिन सभी मिलजुल कर इस आयोजन में भाग ले रहे थे। आठ जोड़ों का हिंदू और 23 का सिख धर्म के अनुसार विवाह हुआ।

जोड़ों को जरूरत की चीजें देकर किया विदा
सभी 31 जोड़ों को समिति और अन्य संस्थाओं की तरफ से घरेलू सामान भेंट किया गया। लड़कियों को बैड, गद्दे, बिस्तर, संदूक, चांदी की पायल, चूडिय़ां, वाटर कूलर, बर्तन, सिलाई मशीन, गैस चूल्हा सहित छह महीने का राशन दिया गया।

उठाई कन्या भ्रूण हत्या के खिलाफ शपथ
विवाह संपन्न होने के बाद सभी 31 जोड़ों ने कन्या भ्रूण हत्या के खिलाफ शपथ उठाई और बेटियों को न मारने की कसम खाई। बेटा-बेटी में कोई फर्क न करने और दोनों को एक समान शिक्षा का भी वचन लिया। जोड़ों को पौधरोपण की शपथ भी दिलाई गई।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You