सिर्फ 2.47 फीसदी छात्रों ने अंकों के सत्यापन के लिए किया आवेदन

  • सिर्फ 2.47 फीसदी छात्रों ने अंकों के सत्यापन के लिए किया आवेदन
You Are HereNational
Monday, June 19, 2017-10:06 PM

नई दिल्ली: सीबीएसई ने 12वीं परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं के दोषपूर्ण मूल्यांकन के आरोपों के बीच सोमवार को स्पष्ट किया है कि अंको के सत्यापन के लिए सिर्फ 2.47 फीसदी छात्रों ने आवेदन किया है। इस साल 12वीं की परीक्षा में कुल 10,98,891 छात्र शामिल हुए थे। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अनुसार सत्यापन के लिए साल 2014,2015 और 2016 में क्रमश: 2.31, 2.09 और 2.53 छात्रों ने आवेदन किया था। 

सत्यापन कराने वाले छात्रों की संख्या में बढ़ोतरी नहीं
बोर्ड का यह स्पष्टीकरण एेसी खबरों के बीच आया है, जिसमें यह कहा जा रहा था कि दोषपूर्ण मूल्यांकन प्रक्रिया की वजह से सत्यापन कराने वाले छात्रों की संख्या बढ़ी है। बोर्ड ने अपने बयान में कहा, "इस साल मूल्यांकन की गई सारी उत्तर पुस्तिकाओं में से सिर्फ 2.47 प्रतिशत छात्रों ने ही सत्यापन के लिए आवेदन किया।"  बोर्ड ने कहा कि यह दिखाता है कि सत्यापन कराने वाले छात्रों की संख्या में बढ़ोतरी नहीं हुई है, जैसा कि कुछ खबरों में कहा गया था।   

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You