कश्मीर मसले के हल के लिए बात करने को तैयार

  • कश्मीर मसले के हल के लिए बात करने को तैयार
You Are HereNational
Friday, September 22, 2017-7:16 PM

श्रीनगर: हुरिर्यत के नरमपंथी गुट के नेमा मीरवासज उमर फारूक ने कहा कि लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए कश्मीर मसले के हल हेतु बात करने को तैयार हैं। श्रीनगर की जामिया मस्जिद में लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अगर भारत सरकार कश्मीर मुद्दे को बातचीत के माध्यम से हल करना चाहती है तो हितधारकों को बैठकर बात करनी चाहिए।


उन्होंने अपने संबोधन में कहा, अगर भारत सरकार बैठकर बात करना चाहती है तो सही है कि सभी हितधारक बैठकर बात करें। भारत सरकार को भी चाहिए कि वो मिल्ट्री ताकत की जगह सकारात्मक सोच के जरिये बात करे। मीरवायज ने कहा कि अगर ऐसा होता है आजादी का समर्थन करने वाले हुरिर्यत नेता पूरा साथ देंगे ताकि लोगों की भावनाओं और उम्मीदों के तहत कश्मीर मसला हल हो सके।


भारत पाक के बेहतर रिश्ते चाहता हैं
मीरवायज उमर फारूक ने कहा कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान के बीच बेहत्तर रिश्ते चाहता है। दोनों देशों के बीच विवाद खत्म होने चाहिए फिर वो कश्मीर विवाद ही क्यों न हो। उन्होंने मानवाधिकार हनन का भी विरोध किया और कहा कि एक तरफ वार्ता की बात कर रहे हैं और दूसरी तरफ मानवाधिकार हनन जारी है।

 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You