केंद्रीय मंत्री गौड़ा को झेलनी पड़ी नोटबंदी की परेशानी, अस्पताल ने नहीं लिए पुराने नोट

  • केंद्रीय मंत्री गौड़ा को झेलनी पड़ी नोटबंदी की परेशानी, अस्पताल ने नहीं लिए पुराने नोट
You Are HereTop News
Wednesday, November 23, 2016-11:59 AM

मंगलौर: नोटबंदी के चलते जहां आम जनता परेशान है वहीं मंत्री भी इससे अछूते नहीं हैं। केंद्रीय सांख्यिकी मंत्री सदानंद गौड़ा भी इससे खासे परेशान हो गए। दरअसल मंगलौर के अस्पताल में मृत भाई का शव लेने पहुंचे गौड़ा से अस्पताल ने पुराने नोट नहीं लिए। सदानंद गौड़ा के भाई भास्कर गौड़ा का मंगलवार को मंगलौर के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया था।
 



गौड़ा के भाई को 10 दिन पहले जॉन्डिस की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। भाई का शव लेने अस्पताल पहुंचे सदानंद गौड़ा अस्पताल के बिल को पुराने नोटों से भरना चाहते थे लेकिन अस्पताल ने पूराने नोट लेने से साफ मना कर दिया। इसके बाद गुस्साए गौड़ा ने अस्पताल प्रशासन से लिखित में जानकारी मांगी की अस्पताल ने पुराने नोट लेने से मना क्यों किया? बता दें कि सरकार ने 24 तारीख तक सिर्फ सरकारी अस्पतालों को पुरान नोट लेने का आदेश दिया है। हालांकि बाद में अस्पातल ने चेक के जरिए बिल का भुगतान स्वीकार कर लिया लेकिन गौड़ा अस्पताल के इस रवैसे से खासे नाराज दिखे।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You