Subscribe Now!

शिवसेना का भाजपा पर हमला- ‘स्वच्छता अभियान’ पैसे की बर्बादी

  • शिवसेना का भाजपा पर हमला- ‘स्वच्छता अभियान’ पैसे की बर्बादी
You Are HereNational
Wednesday, November 22, 2017-4:01 PM

मुंबई: शिवसेना ने आज भाजपा सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘स्वच्छ भारत अभियान’ के प्रचार-प्रसार पर खर्च की गई करोड़ों रुपये की राशि का इस्तेमाल महाराष्ट्र में कम से कम दो हजार शौचालयों के निर्माण के लिए किया जा सकता था। पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में कहा गया कि यद्यपि सरकार ने राज्य और मुंबई के खुले में शौचमुक्त बनने के बारे में काफी विज्ञापन दिया लेकिन दावा हकीकत से दूर है।

संपादकीय में उस वीडियो क्लिप का हवाला दिया गया जिसमें महाराष्ट्र के मंत्री एवं भाजपा नेता राम शिन्दे सड़क किनारे लघुशंका करते दिखाई देते हैं।  इसमें कहा गया कि मंत्री को गलत करार दिया जा सकता है, लेकिन इसके लिए उन्हें अकेले को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। जो लोग घोटालों में शामिल हैं और जिन्होंने स्वच्छता अभियान के कोष को लूटा है, वे जिम्मेदार हैं। पार्टी ने कहा कि शिन्दे की स्वास्थ्य स्थिति ने उन्हें सड़क पर रुकने और सड़क किनारे लघुशंका करने के लिए विवश किया।  

फोटो खिंचवाने के लिए नेताओं ने उठाए झाड़ू 
संपादकीय में कहा गया कि गंगा नदी को साफ करने के लिए हजारों करोड़ रुपये खर्च किए गए लेकिन कोई परिणाम नहीं निकला। प्रधानमंत्री ने झाड़ू उठाई। तुरंत भाजपा के मंत्रियों, सांसदों और विधायकों ने उनका अनुसरण किया और यही चीज की लेकिन यह केवल फोटो खिंचवाने के लिए किया गया। शिवसेना ने कहा कि महाराष्ट्र के मामले में 26 नगर निगम और 239 परिषद हैं। राज्य की कुल आबादी में 45 प्रतिशत शहरी आबादी है जिसमें 30 प्रतिशत लोगों की शौचालयों तक पहुंच नहीं है। इस कारण उन्हें खुले में शौच करने के लिए विवश होना पड़ता है। ‘सामना’ में कहा गया कि यदि सरकार ने महाराष्ट्र में राष्ट्रीय राजमार्गों और अन्य महत्वपूर्ण जगहों पर अधिक शौचालय बनाए होते तो राम शिन्दे के सामने आई स्थिति को टाला जा सकता था।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You