हरित ऊर्जा को बढ़ावा दें बैंक, उद्योग: अब्दुल्ला

  • हरित ऊर्जा को बढ़ावा दें बैंक, उद्योग: अब्दुल्ला
You Are HereJammu Kashmir
Saturday, March 01, 2014-2:07 PM

नई दिल्ली: केंद्रीय नवीन और नवीनीकृत ऊर्जा मंत्री फारुक अब्दुल्ला ने शुक्रवार को कहा कि बैंक और उद्योग जैसे बड़े शेयरधारकों को हरित ऊर्जा को बढ़ावा देने में अग्रसक्रिय भूमिका निभानी चाहिए।

अब्दुल्ला ने योजना आयोग और औद्योगिक संस्था सीआईआई द्वारा इंडिया एनर्जी सिक्योरिटी सिनारियो (आईईएसएस) 2047 को लांच किए जाने के दौरान कहा,  ‘‘बैंकों को ब्याज दरों में कटौती करने की जरूरत होगी और उद्योगों को बेहतर उत्पाद बनाने और उसे विकसित करने की जरूत है।’’

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार और केंद्र को साथ काम कर देश के ऊर्जा बास्केट में नवीनीकृत ऊर्जा के स्रोतों के योगदान को बढ़ावा देने वाली नीतियां बनानी चाहिए। देश के ऊर्जा बास्केट में नवीनीकृत ऊर्जा के योगदान को बढ़ाने के लिए एकीकृत कोशिश और एकसमान नीतियां बनाने की जरूरत है। नवीनीकृत ऊर्जा के स्रोत से लगभग 30,000 मेगावाट विद्युत का उत्पादन होता है और भारत का कुल विद्युत उत्पादन 2,34,000 मेगावाट है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You