शाजिया इल्मी व आशुतोष को पुलिस ले गई थाने

  •  शाजिया इल्मी व आशुतोष को पुलिस ले गई थाने
You Are HereNcr
Thursday, March 06, 2014-9:06 PM
 नई दिल्ली :  भाजपा दफ्तर पर बुधवार को हुई झड़प के मामले के  जांच में सहयोग के लिए आप नेता शाजिया इल्मी व आशुतोष को दिल्ली पुलिस मंदिर मार्ग थाने ले गई है । भाजपा दफ्तर पर पत्थरबाजी के मामले में धारा 161 के तहत उनके बयान दर्ज किए गए हैं ।  शाजिया इल्मी, आशुतोष और आनंद कुमार के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। चुनाव आयोग ने भी झड़प मामले में दिल्ली पुलिस से रिपोर्ट मांगी है।  
 
 बुधवार को हुए हंगामे के बाद आप नेता आशुतोष, शाजिया इल्मी और आनंद कुमार के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी । जिसके बाद कयास लगाए जा रहे थे कि पुलिस इन तीनों बड़े नेताओं को गिरफ्तार भी कर सकती है । वहीं मामले में नामजद हुए 14 कार्यकर्ताओं को जमानत मिल गई है ।
 
पुलिस के साथ जाने से पहले आशुतोष ने कहा कि वह कानून को मानने वाले देश के नागरिक हैं और जांच में पूरा सहयोग करेंगे। कार्यकर्ताओं से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए उन्होंने कहा, किसी भी तरह का शोर-शराबा और हंगामा यहां नहीं होनी चाहिए । हम अहिंसावादी गांधीवादी हैं। पुलिस वाले भी देश के नागरिक हैं। कानून लागू करना इनका काम है। इनके साथ किसी भी तरह की बद्तमीजी नहीं होनी चाहिए। जो भी कार्यकर्ता ऐसा करता पाया जाएगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
 
दिल्ली पुलिस के साथ जाने से पहले जब शाजिया से पूछा गया कि क्या वह अग्रिम जमानत के लिए अप्लाई करेंगी, उन्होंने कहा, इसकी जरूरत नहीं पड़ेगी, क्योंकि मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है. हम लोग आवाज उठाते हैं, हाथ नहीं । मुझे लगता है कि अगर हमारी ओर से कुछ हुआ है तो यह पहली बार हुआ है और आखिरी बार हुआ है । 
 
संसद मार्ग पुलिस थाने में दर्ज एफआईआर में दंगा, लोकसेवकों को अपनी ड्यूटी से रोकने, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोप लगाए गए हैं ।  बुधवार को बीजेपी मुख्यालय पर दोनों दलों के कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प के मामले में दिल्ली पुलिस ने एफआईआर दर्ज दर्ज की है। । इस झड़प में आम आदमी पार्टी के 13 कार्यकर्ता, भाजपा के 10 समर्थक, चार पुलिसकर्मी और एक मीडियाकर्मी  समेंत झड़प में 28 लोग घायल हुए हैं। 
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You