‘राईट टू रिकाल’ के तहत वापस बुलाए जाएंगे नगर पंचायत अध्यक्ष

  • ‘राईट टू रिकाल’ के तहत वापस बुलाए जाएंगे नगर पंचायत अध्यक्ष
You Are HereChhattisgarh
Friday, March 07, 2014-2:31 PM

रायपुर: छत्तीसगढ़ के दो नगर पंचायतों के अध्यक्षों को राईट टू रिकाल के तहत वापस बुलाने के लिए मतदान कराया जाएगा। आधिकारिक सूत्रों ने आज यहां बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग ने रायगढ़ जिले की नगर पंचायत सरिया और कोण्डागांव जिले की नगर पंचायत विश्रामपुरी के अध्यक्षों को राईट टू रिकॉल के तहत वापस बुलाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। छत्तीसगढ़ नगर पालिका अधिनियम 1961 की धाराओं के तहत अध्यक्षों को वापस बुलाने के लिए मतदान प्रक्रिया शुरू करने का अनुरोध राज्य सरकार द्वारा आयोग से किया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि इस सिलसिले में राज्य निर्वाचन आयोग ने दोनों नगर पंचायतों में मतदान के लिए मतदाता सूची तैयार करने का कार्यक्रम जारी कर दिया है। उन्होंने बताया कि आयोग ने दोनों जिलों के कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों (स्थानीय निर्वाचन) को परिपत्र के साथ कार्यक्रम भेजकर कहा है कि मतदाता सूची के प्रकाशन का प्रचार-प्रसार, प्राधिकृत कर्मचारियों की नियुक्ति, उनके प्रशिक्षण और सांसदों/विधानसभा, सदस्यों/पार्षदों को सूचना भेजने तथा मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों को मतदाता सूची का प्रारूप उपलब्ध कराने का कार्य इस महीने की 13 तारीख को किया जाएगा।

अधिकारियों ने बताया कि दोनों नगर पंचायतों के अध्यक्षों के खिलाफ पार्षदों ने अविश्वास जाहिर किया था जिसकी जानकारी जिला प्रशासन ने राज्य शासन को भेज दी थी। बाद में राज्य शासन ने आयोग से अध्यक्षों को वापस बुलाने के लिए मतदान प्रक्रिया शुरू करने का अनुरोध किया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You