यह खेल की मासूम सराहना नहीं राजनीतिक बयान है: जेटली

  • यह खेल की मासूम सराहना नहीं राजनीतिक बयान है: जेटली
You Are HereNational
Friday, March 07, 2014-10:04 PM

नई दिल्ली: भारत के खिलाफ क्रिकेट मैच में पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने वाले छात्रों पर हुई पुलिस कार्रवाई के विवाद पर भाजपा ने आज कहा कि ऐसा करके उन छात्रों ने न सिर्फ एक ‘राजनीतिक बयान’ दिया है बल्कि अपने ही समुदाय के लाखों लोगों की छवि को भी नुकसान पंहुचाया है। भाजपा के वरिष्ठ नेता अरूण जेटली ने कहा जब एक समूह सोचे समझे ढंग से पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाता है तो इसे पाकिस्तान के अच्छे खेल की ‘‘मासूम सराहना’’ नहीं कहा जा सकता है। ऐसी कार्रवाई में तो एक ‘‘राजनीतिक बयान’’ है।

अपने ब्लाग में उन्होंने लिखा, ऐसा करते हुए इन छात्रों ने क्या यह सोचा कि उन्होंने अपने इस कृत्य से अपने ही समुदाय के उन लाखों लोगों की छवि को कितना नुकसान पंहुचाया है जो उनकी इस हरकत और विचार से सहमत नहीं हैं। राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष ने कहा, मुद्दा यह नहीं है कि इन युवाओं को दंडित किया जाए या नहीं बल्कि मुद्दा यह है कि जानबूझ कर की गई इस हरकत का राजनीतिक संदेश क्या है?

मेरठ में पढ़ रहे करीब 60 कश्मीरी छात्रों पर हाल में भारत पर पाकिस्तानी क्रिकेट टीम की जीत का जश्न मनाने के आरोप में कल उत्तरप्रदेश पुलिस ने देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया था जिसे बाद में वापस ले लिया गया। जिले के अधिकारियों ने स्वामी विवेकानंद सुभारती विश्वविद्यालय के इन छात्रों के आचरण की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं। विश्वविद्यालय के कुलपति मंजूर अहमद ने बताया कि कश्मीरी प्रोफेसर की अगुवाई में तीन सदस्यीय समिति बनाई गई है और उनका निलंबन वापस लेने का फैसला इस समिति की रिपोर्ट के आधार पर किया जाएगा। समिति कुछ ही दिनों में रिपोर्ट देगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You