सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय की याचिका पर कल होगी सुनवाई

  • सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय की याचिका पर कल होगी सुनवाई
You Are HereNational
Wednesday, March 12, 2014-4:46 PM

नई दिल्ली: सर्वोच्च न्यायालय सहारा समूह के प्रमुख सुब्रत रॉय की याचिका पर गुरुवार को सुनवाई करेगी। इस याचिका में रॉय ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेजने वाले चार मार्च के आदेश को चुनौती दी है और इसे अवैध कहा है।

न्यायमूर्ति के.एस. राधाकृष्णन और न्यायमूर्ति जे.एस. केहर की पीठ ने कहा कि वह मामले की सुनवाई गुरुवार को करेगी, क्योंकि पीठ को अन्य सुनवाई करनी है। वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने सुनवाई शुरू होने पर अदालत से कहा कि ए.आर. अंतुले मामले के मुताबिक सर्वोच्च न्यायालय अपनी खामी को ठीक कर सकता है।

जेठमलानी ने कहा कि दोनों न्यायाधीशों से यह कहा जाना शर्मींदगी भरा लग रहा है कि उनके आदेश सही नहीं थे। जेठमलानी ने कहा, ‘‘मेरे लिए यह काफी शर्मींदगी भरा है। अगर आप मुझे सुनना चाहते हैं, तो मुझे कोई कठिनाई नहीं होगी।’’

न्यायमूर्ति केहर ने कहा, ‘‘हम आपके तर्क से शर्मिंदा हुए या नहीं यह हम देखना चाहते हैं। आपने जो तैयार किया है, वह आप जानें।’’ अदालत ने सुनवाई के लिए गुरुवार अपराह्न दो बजे का समय निश्चित किया। रॉय ने चार मार्च के आदेश को खारिज किए जाने की याचिका दाखिल की है। सहारा समूह ने निवेशकों के बकाया 19,000 करोड़ रुपये वापस करने के मामले में रॉय की हिरासत का उल्लेख करते हुए बुधवार सुबह सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दाखिल की। यह राशि सहारा समूह की दो कंपनियों एसआईआरईसीएल और एसएचआईसीएल ने वैकल्पिक रूप से पूरी तरह परिवर्तनीय डिबेंचर (ओएफसीडी) के जरिए निवेशकों से जुटाई गई थी।

निवेशकों के पैसे वापस करने के लिए सहारा समूह की ओर से एक स्वीकार्य प्रस्ताव अदालत के सामने रखने में असफल रहने पर न्यायमूर्ति के.एस. राधाकृष्णन और न्यायमूर्ति जे.एस. केहर ने चार मार्च को सुब्रत रॉय को न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You