जानिए, कब-कब नक्सलियों के हमले का शिकार हुए जवान

  • जानिए, कब-कब नक्सलियों के हमले का शिकार हुए जवान
You Are HereNational
Wednesday, March 12, 2014-1:20 PM

नई दिल्ली: देश में पिछले पांच साल में कई बार सुरक्षा बलों को नक्सली हमले का सामना करना पड़ा है। इन हमलों में कई जवान शहीद हो गए। देश के कई हिस्सों में हुए नक्सली हमलों का घटनाक्रम इस प्रकार है:-

29 जून 2008:- माओवादियों ने ओडि़शा के बालीमेला जलाशय में एक नौका पर हमला किया, जिसपर चार पुलिस अधिकारी और 60 ग्रेहाउंड कमांडो सवार थे। हमले में 38 जवान मारे गए।

16 जुलाई 2008:- ओडि़शा के मल्कानगिरि जिले में एक बारूदी सुरंग में हुए विस्फोट से एक पुलिस वाहन के परखच्चे उड़ गए, जिसमें 21 पुलिसकर्मी मारे गए।

13 अप्रैल 2009:- पूर्वी ओडि़शा के कोरापुट जिले में एक बॉक्साइट खान में हुए माओवादी हमले में अद्र्धसैनिक बल के 10 जवान मारे गए।

22 अप्रैल 2009:- माओवादियों ने झारखंड में एक ट्रेन को हाईजैक कर लिया जिसमें करीब 300 लोग सवार थे। फरार होने से पहले इसे जबरन लातेहार जिला ले गए।

22 मई 2009:- माओवादियों ने महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में स्थित जंगलों में 16 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी।

10 जून 2009:- झारखंड के सारंदा जंगलों में एक नियमित गश्ती दल पर माओवादियों द्वारा घात लगाकर किए गए हमले में सीआरपीएफ के जवान एवं अधिकारी सहित नौ पुलिसकर्मी मारे गए।

13 जून 2009:-  नक्सलियों ने बोकारो से लगे एक छोटे से कस्बे में दो बारूदी सुरंग में विस्फोट और बम हमले किए, जिसमें 10 पुलिसकर्मी मारे गए और कई अन्य घायल हो गए।

16 जून 2009:- माओवादियों ने सशस्त्र हमले के बाद किए गए बारूदी सुरंग विस्फोट में 11 पुलिस अधिकारियों की जान ले ली। पलामू जिले के बेहराखंड में माओवादियों के एक अन्य हमले में चार पुलिसकर्मी मारे गए और दो अन्य घायल हो गए।

23 जून 2009:- मोटरसाइकिल सवार सशस्त्र नक्सल विद्रोहियों ने बिहार के लखीसराय जिला अदालत परिसर में गोलीबारी की और रांची के स्वयंभू जोनल कमांडर सहित अपने चार कॉमरेड छुड़ा ले गए।

29 जून 2010:- छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में नक्सलियों ने घात लगाकर हमला किया जिसमें सीआरपीएफ के कम से कम 26 जवान मारे गए।

18 अक्तूबर 2012:- बिहार के गया जिले में बारूदी सुरंग विस्फोट और मुठभेड़ में सीआरपीएफ के छह जवान मारे गए आठ कर्मी घायल हो गए।

25 मई 2013:- छत्तीसगढ़ की दारभा घाटी में हुए नक्सल हमले में पूर्व मंत्री महेन्द्र कर्मा और छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रमुख नंद कुमार पटेल सहित कांग्रेस के 25 नेता मारे गए।

2 जुलाई 2013:- झारखंड के दुमका में एक हमले में पाकुड़ के पुलिस अधीक्षक सहित पांच पुलिसकर्मी मारे गए।

28 फरवरी 2014:- दंतेवाड़ा जिले में माओवादी हमले में एक थाना प्रभारी सहित छह पुलिसकर्मी मारे गए।

11 मार्च 2014:- छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में 15 सुरक्षाकर्मी मारे गए।   


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You