आम चुनाव सपा के लिए सबसे बड़ी चुनौती: अखिलेश यादव

  • आम चुनाव सपा के लिए सबसे बड़ी चुनौती: अखिलेश यादव
You Are HereNational
Sunday, March 16, 2014-9:51 AM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आम चुनाव को समाजवादी पार्टी (सपा) के लिए सबसे बड़ी चुनौती बताया। उन्होंने कहा कि सपा लोकसभा चुनाव में उप्र में सबसे अधिक सीटें जीतने में सफल होगी, क्योंकि पिछले दो वर्षों के दौरान राज्य विकास के पथ पर अग्रसर हुआ है।

वर्तमान सपा सरकार के दो वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने आवास 5, कालिदास मार्ग पर आयोजित एक पत्रकार वार्ता के दौरान ये बातें कहीं। उन्होंने पिछले 2 वर्षों में सपा सरकार द्वारा किए गए कार्यों का लेखा-जोखा भी पेश किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उप्र में चारों तरफ विकास का काम हो रहा है। इसी वजह से सबसे अधिक निवेशक राज्य में आए हैं। इनके माध्यम से अब आगे के दिनों में विकास का काम होगा।

उन्होंने कहा कि सपा ने विकास को जन-जन तक पहुंचाने का काम किया है। शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क जैसी बुनियादी सुविधाओं का उप्र में तेजी से विकास हो रहा है। चारों तरफ सड़कों का जाल बिछाया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सपा ने पिछले दो वर्षों के भीतर अपने चुनावी वादों को पूरा करने का काम किया है और इन्हीं उपलब्धियों को लेकर वह जनता के बीच जाएगी और निश्चित तौर पर पार्टी को इसका लाभ मिलेगा।

अखिलेश यादव ने स्वीकार किया कि यह आम चुनाव पार्टी के लिए वाकई सबसे बड़ी चुनौती है और लोकसभा चुनाव को उन्होंने सपा सरकार के लिए अब तक की सबसे बड़ी चुनौती करार दिया। उन्होंने भरोसा जताया कि सपा उप्र में सबसे अधिक सीटें हासिल करेगी।

मुजफ्फरनगर दंगे को नजरअंदाज करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि लैपटॉप वितरण, कन्या विद्याधन, बेरोजगारी भत्ता, एमबीबीएस की सीटों में वृद्धि, नए मेडिकल कॉलेजों को खोलने की योजना जैसी तमाम ऐसी कई जनकल्याणकारी योजनाएं हैं, जिनकी वजह से उप्र में आम लोगों के जीवन स्तर में सुधार हुआ है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You