<

सौंदर्यीकरण की योजना केवल कागजों तक

  • सौंदर्यीकरण की योजना केवल कागजों तक
You Are HereNational
Tuesday, March 25, 2014-1:36 PM

नई दिल्ली: दिल्ली में राष्ट्रमंडल खेलों के आयोजन से पहले दिल्ली सरकार द्वारा इस बात की जोर-शोर से घोषणा की गई थी कि जिस तरह से कनॉट प्लेस का नवीनीकरण व साज-सज्जा की जाएगी, उसी तरह से पुरानी दिल्ली के चांदनी चौक क्षेत्र का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। इसके तहत इलाके में लटकने वाले बिजली के तारों को भूमिगत किया जाएगा। सड़कों को नए तरीके से बनाकर उसके दोनों ओर राहगीरों के बैठने के लिए बैंच और रात्रि के समय प्रकाश की व्यवस्था की जाएगी। सड़कों के दोनों ओर नए पत्थर लगाए जाएंगे।

इसके पीछे मकसद एक ही था कि यहां आने वाले विदेशी पर्यटक इलाके का नजारा देखकर आनन्द उठाने के साथ-साथ दिल्ली के प्राचीन गौरवीय इतिहास के बारे में भी जानकारी हासिल कर सकें। चांदनी चौक इलाके के लोगों के बीच तो यहां तक चर्चा है कि दिल्ली सरकार ने इसके लिए 250 करोड़ रुपए का बजट तक स्वीकृत किया था लेकिन पूरी योजना सरकार की फाइलों में ही दबकर रह गई।

पार्किंग की कमी

यहां के लोगों की मुख्य समस्या पार्किंग की है। हजारों लोग इस इलाके में खरीददारी के लिए रोजाना आते-जाते हैं लेकिन उन्हें अपने वाहन ठीक से खड़े करने की कोई व्यवस्था नहीं है। लोग दूर जाकर अपनी गाडिय़ां खड़ी करने के बाद यहां तक पहुंचते हैं। इसके बाद दूसरी समस्या पूरे इलाके में सीवर जाम की है। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You