भारतीय किशोर ने अमेरिका को बताया सलाना 40 करोड़ डॉलर बचाने का तरीका

  • भारतीय किशोर ने अमेरिका को बताया सलाना 40 करोड़ डॉलर बचाने का तरीका
You Are HereAmerica
Sunday, March 30, 2014-2:33 PM

न्यूयॉर्क : भारतीय मूल के 14 साल के एक लड़के ने अमेरिका के सामने एक अद्भुत योजना पेश की है, जिससे आधिकारिक दस्तावेजों में इस्तेमाल किए जाने वाले फांट को बदल देने मात्र से ही हर साल लगभग 40 करोड़ डॉलर की राशि बचाई जा सकती है।

पिट्सबर्ग क्षेत्र के एक मिडिल स्कूल में पढऩे वाले सुवीर मीरचंदानी ने दावा किया कि यदि संघीय सरकार गारमोंड फांट का इस्तेमाल करती है तो यह विशेष तौर पर सालाना करीब 13.6 करोड़ डॉलर की बचत कर सकती है, जो स्याही पर सालाना खर्च होने वाले अनुमानित 46.7 करोड़ डॉलर से 30 प्रतिशत कम है। यदि राज्य सरकारें भी इस बदलाव को कार्यान्वित करती हैं तो 23.4 करोड़ डॉलर की अतिरिक्त राशि बचाई जा सकती है।

मीरचंदानी ने कहा कि उसके मन में यह विचार तब आया जब वह अपने स्कूल में विज्ञान मेला परियोजना के तहत व्यर्थ खर्च में कटौती करने और धन बचाने की सोच रहा था। उसने अपने प्रयोग के तहत शिक्षकों के हैंडआउट्स के बिना बारी के (रैंडम) नमूने लिए और आम तौर पर सर्वाधिक इस्तेमाल होने वाले ई, टी, ए तथा आर जैसे अक्षरों पर ध्यान केंद्रित किया।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You