मुजफ्फरनगर में रचा नया इतिहास

  • मुजफ्फरनगर में रचा नया इतिहास
You Are HereNational
Tuesday, April 08, 2014-7:50 PM

मुजफ्फरनगर, (राकेश त्यागी): उत्तर प्रदेश (यू.पी) के मुजफ्फरनगर जनपद में आज मतदाता जागरूकता के लिए नया इतिहास रचा गया। करीब दो लाख लोगों ने लगभग 125 किमी लम्बी मानव श्रृंखला बनाकर लोगों को दस अप्रैल मतदान के लिए अनोखे ढंग से प्रेरित किया। तिरंगे के रंग की दो लाख झंडियों के साथ सड़कों पर उमड़े जनसैलाब व स्कूली छात्र-छात्राओं से आज एक सार्थक पहल का गवाह बना दिया।

दस अप्रैल को पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मतदाना होना है और इसके लिए प्रशासनिक स्तर पर मतदाताओं को जागरूक करने का अभियान भी बड़े पैमाने पर चल रहा है। मुजफ्फरनगर में जिला प्रशासन द्वारा बिजनौर सीमा के पास से शुरू कर मुजफ्फरनगर शहर बुढ़ाना होते हुए कांधला फाटक तक लगभग 125 किमी मानव श्रृंखला का निर्माण कराया गया। शहर के महावीर चौक पर मानव श्रृंखला का मुख्य केन्द्र बिंदु रखा गया था।

 जगह-जगह सांस्कृतिक रंगारंग कार्यक्रमों के साथ प्रशासनिक अधिकारियों ने हाथ से हाथ पकड़े स्कूली छात्र-छात्राओं व नागरिकों का उत्साहवर्धन किया। पूरे मार्ग को झंडियों बैनर व फ्लैक्स आदि से सजाया गया था। जगह-जगह ढोल नगाड़े, बैण्ड बजाये जा रहे थे और बच्चे मतदान जागरूकता के नारे बोलकर लोगों को याद दिला रहे थे कि दस अप्रैल को वोट डालने भूल न जाना। सोलहवीं लोकसभा के लिए मतदान प्रतिशत बढाने के उद्देश्य से बनाई जा रही इस मानव श्रृंखला से उत्तर प्रदेश में नई चेतना आई है।

जागरूकता के अंतिम चरण में मुजफ्फरनगर के इस प्रयास का संदेश पूरे देशभर में गया है। यह श्रृंखला तीन ससंदीय क्षेत्रों बिजनौर, मुजफ्फ रनगर व कैराना को जोड़े हुई थी। मुजफ्फरनगर के जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ कई जगह पर पैदल भ्रमण कर छात्र-छात्राओं का उत्साहवर्धन किया। उन्होंने कहा कि मतदाता जागरूकता अभियान सफल रहा है और इसका संदेश दूर-दूर तक जा रहा है। अब मुजफ्फ रनगर देश-विदेशों में अपनी नई पहचान दे रहा है। इससे यहां का वातावरण बहुत अच्छा हो गया है। सभी विद्यालयों ने इसमे सहयोग किया। लगभग दो लाख प्राईमरी से लेकर डिग्री कालेज स्तर तक के छात्र-छात्राएं इसमें शामिल रहे। उनके हाथों में स्लोगन लिखी तख्तियां व तिरंगे के रंग की करीब डेढ़ लाख हाथों में झंडिया थी। हाथों की झंडियों को लहराते हुए, नारे लगाते हुए ये बच्चे सुबह आठ से नौ एक घंटे के लिए 125 किमी के सड़क के हमसफर बने।

मतदाता जागरूकता अभियान के प्रभारी अधिकारी बेसिक शिक्षा अधिकारी कोस्तुभ कुमार सिंह ने बताया कि अभियान पूरी तहर से सफल रहा है और इसने एक नयाकीर्तिमान स्थापित किया है और इस रिकार्ड को कई संस्थाओ ने भी रिकार्ड किया है। उन्होंने बताया कि पहली बार देश में मतदाता जागरूकता के लिए इतनी बड़ी मानव श्रृंखला बनाई गई है। मानव श्रृंखला के नियंत्रण के लिए जोनल व सैक्टर मजिस्ट्रेटों की तैनाती के साथ ही स्वास्थ्य विभाग की टीमे पुलिस व यातायात विभाग के अधिकारी, कर्मचारियों को लगाया गया था और स्कूली छात्र-छात्राओं के लिए जगह-जगह पीने के पानी व जलपान की भी व्यवस्था की गई थी।

Edited by:Rakesh Tyagi

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You