धोनी ने इशांत को 48वां ओवर दिये जाने का किया बचाव

  • धोनी ने इशांत को 48वां ओवर दिये जाने का किया बचाव
You Are HereSports
Sunday, October 20, 2013-9:22 AM

मोहाली: भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने तेज गेंदबाज इशांत शर्मा को 48 वां ओवर दिये जाने के फैसले का बचाव किया है जिसके चलते ऑस्ट्रेलिया को तीसरे एकदिवसीय खेल में 30 रन मिल जाने से भ्रमणकारी टीम विजय स्थिति में आ गयी। धोनी ने कहा कि वह महज एक विकल्प का इस्तेमाल कर रहे थे।

मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में धोनी ने कहा ‘‘उसके बाद यह भी एक विकल्प था कि मैं तक गेंदबाजी कर सकता था। आपको यह देखना होता है कि आपके पास क्या विकल्प उपलब्ध हैं। विनय कुमार गेंदबाजी कर चुके थे और उन्होंने भी कुछ रन दिये थे। मैने सोचा कि चलो इसको आजमां कर देखते हैं।’’ उन्होंने कहा यदि इशांत गेंदबाजी करता और वह नहीं चलता तो मेरे पास दूसरे छोर से विनय को लगाने का अवसर रहता। बहरहाल, नतीजे देख कर यह कहना हमेशा आसान रहता है कि क्या किया जा सकता था और क्या नहीं।

जेम्स फाकनर ने 48 वें ओवर में एक चौका और चार छक्के की मदद से 30 रन बनाये। इस ओवर के मदद से ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे एकदिवसीय मैच में भारत के खिलाफ अपनी जीत पक्की कर ली। धोनी ने कहा ‘‘यदि मैने विनय को गेंद दी होती तो 10-12 रन गये होते। उससे ज्यादा नहीं। लेकिन किक्रेट में ऐसा नहीं होता। आप सही निर्णय का प्रयास करते हैं। कई बार वे चल जाते हैं और कई बार नहीं।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You