ईडन को सचिन का बेसब्री से इंतजार

  • ईडन को सचिन का बेसब्री से इंतजार
You Are HereSports
Monday, November 04, 2013-2:22 PM

कोलकाता: कोलकाता के ऐतिहासिक ईडन गार्डन मैदान पर कई रिकार्ड बने हैं और अब दुनिया के सबसे शानदार क्रिकेट मैदानों में से एक पर दर्शकों की एकमात्र इच्छा सचिन से एक शानदार पारी की है। ईडन में छह नवंबर से वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच के लिए सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। दुनिया के सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बनने से पहले सचिन तेदुंलकर ने ईडन पर ही 5000 और 10,000 रनों के आंकड़े को पार किया था।

 

इस मैदान पर 13 एकदिवसीय और 12 टेस्ट मैचों में तेंदुलकर ने सर्वाधिक 1,358 रन बनाए हैं। उन्होंने खेल के दोनों संस्करणों में अपने पहले मैच में अर्द्धशतक बनाए जिससे भारत को दोनों ही मैचों में जीत मिली। भारत को पहली बार विश्व कप में जीत दिलाने वाले और ईडन पर सचिन के पहले मैच में उनकी टीम के साथी खिलाड़ी कपिल देव को उम्मीद है कि अपने अंतिम मैच में सचिन बढिय़ा पारी खेलेंगे। सचिन ने ईडन पर वर्ष 2002 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 176 रनों की पारी खेली थी, इसके कारण ही भारत वह मैच ड्रा कराने में सफल रहा था।

 

सचिन ने ईडन पर बल्लेबाजी के अलावा गेंदबाजी में भी अपना कौशल दिखाया था। 1993 में हीरो कप के फाइनल के दौरान अंतिम ओवर में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका से जीत को छीन लिया था। पूर्व भारतीय बल्लेबाज प्रवीण आमरे को अब भी वह ओवर याद है। आमरे ने आईएएनएस से कहा, ‘‘सचिन के हर गेंद फेंकने के दौरान भारत की जीत की संभावना बढऩे के साथ ही एक गगनभेदी ध्वनि उभरती थी।

 

उस स्थिति और वातावरण को केवल अनुभव ही किया जा सकता है।’’ इसके साथ ही दर्शकों के कड़वे व्यवहार की भी कुछ यादें तेंदुलकर के साथ जुड़ी हैं। 1996 के विश्व कप में श्रीलंका के साथ मैच में 252 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही भारतीय टीम की खराब हालत के कारण दर्शकों के उपद्रव के कारण मैच पूरा नहीं हो सका था। उस मैच में श्रीलंका को विजयी घोषित कर दिया गया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You