अदालत तक पहुंचा सचिन का ‘भारत रत्न’

  • अदालत तक पहुंचा सचिन का ‘भारत रत्न’
You Are HereSports
Wednesday, November 20, 2013-10:06 AM

मुजफ्फरपुर: देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ की गरिमा धूमिल करने को लेकर बिहार में मुजफ्फरपुर की मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे, खेल मंत्री जितेन्द्र सिंह और मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर और अन्य लोगों के खिलाफ एक मुकदमा दायर किया गया है।

मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी एस.पी. सिंह की अदालत में अधिवक्ता सुधीर कुमार ओझा ने यह मुकदमा दाखिल किया है जिसमें कहा गया है कि एक खिलाड़ी को भारत रत्न जैसे सम्मान देने की घोषणा से इसकी गरिमा धूमिल हुई है। इसमें कहा गया है कि एक खिलाड़ी के तौर पर सचिन को भारत रत्न देने से जनभावनाओं को भी ठेस पहुंची है।

अदालत ने ओझा की याचिका को मंजूर करते हुए सुनवाई के लिए दस दिसम्बर 2013 की तिथि निश्चित की है। उल्लेखनीय है कि मास्टर ब्लास्टर सचिन को भारत सरकार ने हाल ही में भारत रत्न देने की घोषणा की है। भारत रत्न पाने वाले सचिन देश के पहले खिलाड़ी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You