डोपिंग के आरोपी नहीं बन सकेंगे अर्जुन और द्रोणाचार्य

  • डोपिंग के आरोपी नहीं बन सकेंगे अर्जुन और द्रोणाचार्य
You Are HereSports
Friday, January 10, 2014-7:33 PM

नई दिल्लीः केन्द्र सरकार ने राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों के लिए नए मानक तय किए हैं जिसके तहत डोपिंग के आरोपी खिलाडी और कोच अर्जुन और द्रोणाचार्य नहीं बन पाएंगे। खेल मंत्रालय ने शुक्रवार को जारी एक विज्ञप्ति में राजीव गांधी खेल रत्न, अर्जुन पुरस्कार, द्रोणाचार्य पुरस्कार और ध्यानचंद पुरस्कार के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए।

इसके तहत अगर किसी खिलाडी को डोपिंग के लिए दोषी पाया गया हो या उसके खिलाफ मामला लंबित हो तो वह खेल पुरस्कारों के योग्य नहीं होगा। इसी तरह अगर किसी कोच को ड्रग लेने के लिए खिलाडियों को प्रोत्साहित करने का दोषी पाया जाता है या फिर उसके कोई मामला लंबित हो तो वह द्रोणाचार्य पुरस्कार के योग्य नहीं होगा। पिछले साल एथलीट रंजीत माहेश्वरी के नाम की अर्जुन पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया था लेकिन डोपिंग के एक पुराने मामले के चलते उन्हें पुरस्कार नहीं दिया गया।

यही कारण है कि सरकार ने इस मामले में स्पष्ट दिशानिर्देश जारी किए हैं। खेल पुरस्कारों के लिए हर साल नामांकन जनवरी में आमंत्रित किए जाएंगे। नामांकन जमा करने की अंतिम तारीख 30 अप्रैल या इस महीने कामकाज की अंतिम तिथि होगी। नामांकन भेजने के लिए हर खेल संस्था के पदाधिकारियों को चिन्हित किया गया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You