मोदी ने भारतीय खेलों के बारे में अपना विजन रखा

  • मोदी ने भारतीय खेलों के बारे में अपना विजन रखा
You Are HereSports
Sunday, March 09, 2014-8:09 PM

नई दिल्ली: भारतीय खेलों के प्रति अपना नजरिया रखते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेंद्र मोदी ने कहा कि ट्रेनिंग के मामले में खिलाडिय़ों को देश के रक्षाकर्मियों के बराबर रखना चाहिए। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर कल मोदी के साथ ‘चाय पे चर्चा’ के दौरान मौजूद अंतरराष्ट्रीय पैरा एथलीट दीपा मलिक ने बताया कि गुजरात के मुख्यमंत्री ने पैरालंपिक खेलों के लिए बेहतर बुनियादी ढांचे की जरूरत पर जोर दिया।

दीपा ने मोदी के हवाले से कहा, ‘‘खिलाडिय़ों को सैनिकों की तरह समझना चाहिए। मोदी ने  कहा कि खिलाडिय़ों का दर्जा देश के सैनिकों और रक्षाकर्मियों के बराबर होना चाहिए। जिस तरह वे अपने परिवार और समय को देश की सुरक्षा के लिए बलिदान देते हैं उसी तरह एक खिलाड़ी कड़ी ट्रेनिंग से गुजरकर देश के लिए पदक जीतने के लिए काफी चीजों का त्याग देता है।’’ भाजपा मुख्यालय में कल यहां हुई चर्चा के दौरान छह महिला खिलाड़ी मौजूद थी जिसमें दीपा भी शामिल थी। अन्य खिलाडिय़ों में अर्जुन पुरस्कार विजेता क्रिकेटर अंजुम चोपड़ा और निशानेबाज शुमा शिरूर शामिल रहे जिन्होंने पैनल चर्चा में हिस्सा लिय


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You