अटलांटा में सबसे ज्यादा डील्स करके नंबर एक रियल एस्टेट एजेंट बने ए जे स्टाईगमैन

Edited By jyoti choudhary, Updated: 31 May, 2022 03:55 PM

aj steigman became the number one real estate agent in atlanta

फ्लोरिडा के रियल एस्टेट ब्रोकर ए जे स्टाईगमैन ने पिछले साल अटलांटा में सबसे ज्यादा घरों की बिकवाली करने की उपलब्धि हासिल की है। फ्लोरिडा से अटलांटा की दूरी  करीब 500 किलो मीटर है और प्रापर्टी की इन डील्स के लिए स्टाईगमैन ने अटलांटा में विजिट नहीं...

जालंधर: फ्लोरिडा के रियल एस्टेट ब्रोकर ए जे स्टाईगमैन ने पिछले साल अटलांटा में सबसे ज्यादा घरों की बिकवाली करने की उपलब्धि हासिल की है। फ्लोरिडा से अटलांटा की दूरी करीब 500 किलो मीटर है और प्रापर्टी की इन डील्स के लिए स्टाईगमैन ने अटलांटा में विजिट नहीं किया। अटलांटा रियलटर्स एसोसिएशन के आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल उन्होंने 300 प्रॉपर्टीज की डील की हैं और इनकी कुल कीमत 86 मिलियन डालर है। 

संख्या के लिहाज से अटलांटा के प्रापर्टी बाजार की पिछले साल के यह सबसे ज्यादा डील्स हैं। यदि हम उनके द्वारा किए गए प्रॉपर्टीज के सौदों की गणना ढाई से तीन फीसदी कमीशन के लिहाज से करें तो उन्होंने एक साल में 20 लाख डालर से ज्यादा की कमाई की है।

अटलांटा में स्टाईगमैन के पास कार्यलय और घर था लेकिन जब 2019 में कोरोना महामारी आई तो स्वस्थ कारणों से उन्हें फ्लोरिडा शिफ्ट होना पड़ा। अटलांटा रियलटर्स एसोसिएशन के वार्षिक समारोह के दौरान जब स्टाईगमैन को सर्वाधिक डील्स के लिए सम्मानित किया गया तो उन्हें स्थानीय स्तर पर बहुत कम लोग जानते थे। यहां तक कि ट्रेड ग्रुप के प्रेजिडेंट केरन हेचर ने पूछा कि वह कौन है और वह क्या करते हैं।

सॉफ्टवेयर की मदद से की सबसे ज्यादा डील्स
यह कमाल उन्होंने एक स्फटवेयर की मदद से किया है। यह सॉफ्टवेयर उन्होंने 2017 में यूनिवर्सिटी आफ पेंसिल्वेनिया में वॉर्टन स्कूल में बनाना शुरू किया था। यह सॉफ्टवेयर घरों के बड़े डाटा में से निवेशकों के लिए अच्छे और मुनाफे वाले घरों की पहचान करता है। 

अटलांटा में जहां एक तरफ स्टाईगमैन के प्रतिस्पर्धी अपनी प्रॉपर्टीज पर "फार सेल" के बोर्ड लगाने के अलावा क्लाइंट्स के साथ खुद प्रॉपर्टीज की विजिट कर रहे थे तो वहीं दूसरी तरफ स्टाईगमैन ने स्टेग्नेट नाम इस सॉफ्टवेयर के सहारे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल कर के प्रापर्टी की कई डील्स क्लोज कर दी। 

यह सॉफ्टवेयर टर्मिनेटर फिल्म सीरीज में दिखाए गए स्काईनेट नाम के सॉफ्टवेयर की तरह काम करता है और उनकी कंपनी स्टेग्नेट एल एल सी इसी सॉफ्टवेयर के माध्यम से सारा काम करती है। दरअसल स्टाईगमैन रियल एस्टेट एजेंट बनने से पहले चेस खिलाडी थे और उन्होंने इन्वेस्टमेंट बैंकर के तौर पर भी काम किया है। वह पेंसिल्वेनिया और फ्लोरिडा में भी लोगों को घर खरीदने में मदद कर रहे हैं। उन्होंने इन दोनों स्थानों के अलावा जार्जिया में भी 130 मिलियन डालर मूल्य के प्रापर्टी के सौदे किए हैं।

बड़े निवेशक भी स्टाईगमैन के क्लाईंट
स्टाईगमैन के क्लाइंट्स की सूची में ऐसे लोग नहीं है जो अपने लिए घर की खोज कर रहे होते हैं बल्कि उनके क्लाइंट्स ऐसे निवेशक हैं जो घर खरीदने के बाद उन्हें या तो किराए पर देते हैं अथवा मुनाफे के लिए बेच देते हैं। हालांकि स्टाईगमैन ने अपने क्लाइंट्स के नाम का खुलासा नहीं किया है लेकिन यह कहा है कि उनके क्लाइंट्स की सूची में हैज फंड्स और हाई नेटवर्थ इन्वेस्टर्स के साथ साथ इंस्टीच्यूशनल इन्वेस्टर्स हैं। उनके क्लाइंट्स की सूची में सामान्य भू-मालिकों के अलावा वाल स्ट्रीट के बड़े खिलाडी तक शामिल हैं।

स्टाईगमैन की सफलता को देख मैदान में उतरे बड़े खिलाडी
स्टाईगमैन की सफलता को देखते हुए रियल एस्टेट के बड़े खिलाडी भी अटलांटा के प्रापर्टी बाजार में अपनी किस्मत आजमाने उतरने लगे हैं। यहाँ बड़े खिलाडियों का मुकाबला घरों के  पारम्परिक खरीददारों के साथ है जिनमे प्रापर्टी की डील को जल्दी क्लोज करने की आर्थिक क्षमता कम है।  

प्रापर्टी डीलर्ज के मध्य चल रही इस जंग से स्थानीय लोग इस बात को चिंतित हैं कि रियल एस्टेट के खिलाडियों के इस मुकाबले में घरों के असल खरीददारों के लिए घर नहीं मिल पाएंगे। प्रापर्टी मार्किट में निवेश करने वाली बड़ी इन्वेस्टमेंट कंपनियों का कहना है कि पहली बार खरीदने वालों के लिए अच्छे स्कूलों और अच्छी लोकेशंस के पास घर खरीदना मुश्किल हो रहा है और ऐसे लोग किराए पर घर ले रहे हैं। 

पिछले साल की आखिरी तिमाही के घरों की बिक्री के आंकड़ों के मुताबिक अटलांटा में कुल घरों के 18 प्रतिशत सौदे छोटे बड़े और छोटे निवेशकों ने किए हैं जबकि अटलांटा के मेट्रो एरिया में यह संख्या ज्यादा है और इस इलाके में हर तीसरा घर किसी निवेशक ने खरीदा है। 

अटलांटा में आसमान छू रही प्रापर्टी की कीमतें
अटलांटा में पिछले पांच साल में घरों की कीमतों में 49 प्रतिशत की तेजी दर्ज की जा चुकी है जबकि फरवरी 2021 से फरवरी 2022 के मध्य ही इनमे 24 फीसदी की वृद्धि हुई है। घरों की कीमतों के साथ साथ घरों के किराए भी तेजी से बढ़ रहे हैं हैं और रेंटल कंपनियों का मानना है कि घरों के कम संख्या में उपलब्ध होने और महंगा होने एक कारण लोग नया घर खरीदने की बजाय किराए के मकान में रहने को प्राथमिकता देंगे।

यह सॉफ्टवेयर बनाने के उनका मकसद योग्य घरों की खोज करना उनकी डील करना और सौदे को जल्द से जल्द क्लोज करना है। यह बिलकुल चैस के उसी सुपर कंप्यूटर की तरह है जो एक समय पर हजारों गेम्स के दौरान सही चाल चलता है।
-ए जे स्टैगमैन, रियल एस्टेट एजेंट , फ्लोरिडा

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!